मोदी सरकार भारत-पाक क्रिकेट संबंधों की बहाली के पक्ष में नहीं

मोदी सरकार भारत-पाक क्रिकेट संबंधों की बहाली के पक्ष में नहीं

नई दिल्ली:  भारत-पाकिस्तान के बीच क्रिकेट संबंध फिर से शुरू करने की कोशिशों को झटका लग सकता है। केंद्रीय गृह मंत्रालय फिलहाल पाक के साथ क्रिकेट संबंध बहाल करने के पक्ष में नहीं है। क्रिकेट संबंध फिर बहाल करने के उद्देश्य से ही पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के प्रमुख शहरयार खान भारत आ रहे हैं। शहरयार की यात्रा के बारे में पूछे जाने पर गृह मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि अभी क्रिकेट संबंध सुधारने का सही वक्त नहीं आया है। सीमा पार से प्रायोजित आतंकवाद के मुद्दे पर पाकिस्तान का रवैया पहले जैसा ही है। ऐसे में क्रिकेट श्रृंखला शुरू करना सही नहीं होगा। उनके अनुसार पाकिस्तान लंबे समय से क्रिकेट संबंध बहाल करने की कोशिश कर रहा है। इस साल इसमें तेजी आई है। शहरयार खान इसके पहले भारत आकर वित्त मंत्री अरुण जेटली और अन्य लोगों से मुलाकात कर चुके हैं। लेकिन उस समय भी उन्हें कोई ठोस आश्वासन नहीं मिला था। शहरयार खान रविवार को कोलकाता में बीसीसीआइ प्रमुख जगमोहन डालमिया से मुलाकात करेंगे। इसमें भारत-पाकिस्तान के बीच क्रिकेट श्रृंखला खेलने पर चर्चा होगी। कहा तो यह भी जा रहा है कि अगर सब कुछ ठीक रहा तो भारत और पाकिस्तान के बीच इस साल के अंत तक तीन टेस्ट, पांच वनडे और 2 टी-20 मैच हो सकते हैं। ये मैच भारत या पाकिस्तान में न होकर अबुधाबी या दुबई में होंगे।