बंगाल निकाय चुनावों में भाजपा को लगा करारा झटका

बंगाल निकाय चुनावों में भाजपा को लगा करारा झटका

टीएमसी को मिला बहुमत, कांग्रेस ने भी चौंकाया 

कोलकाता। अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस को पश्चिम बंगाल निकाय चुनावों में बड़ी सफलता मिली है। तृणमूल ने राज्य के 91 निकायों में से 67 में बहुमत हासिल कर लिया। मुख्य विपक्षी वामपंथी दलों को पांच और कांग्रेस को छह निकायों में बहुमत मिला है। लोकसभा चुनावों में मिले जनसमर्थन से खुश भाजपा को करारा झटका लगा है और उसका खाता भी नहीं खुला है। पांच जगहों पर त्रिशंकु नतीजे देखने को मिले हैं।

कोलकाता नगर निगम में भी तृणमूल का डंका बजा है और उसने 144 वार्डो में से 85 वार्ड में जीत दर्ज की है। यहां पर वामपंथी दल 12, भाजपा नौ और कांग्रेस को सात वार्ड में जीत मिली है। जबकि तीन वार्डो में निर्दलीयों ने कब्जा जमाया। तृणमूल की की मेयर पद की उम्मीदवार सोवन चटर्जी ने अपनी सीट जीत ली लेकिन नेता विपक्ष सीपीआई-एम की रूपा बाग्ची को हार झेलनी पड़ी।

कांग्रेस के लिए नतीजे सबसे ज्यादा चौंकाने वाले रहे। उसे कोई भी लड़ाई में नहीं मान रहा था, बावजूद इसके कड़ी टक्कर दी और छह निकाय जीत लिए। भाजपा के लिए भी नतीजे चौंकाने वाले रहे और उसकी राज्य में उभरने की उम्मीद को तगड़ा झटका लगा है।