टोपी पहनने से कोई मुसलमान नहीं हो जाता

टोपी पहनने से कोई मुसलमान नहीं हो जाता

बाल्मीकि बस्ती मामले में आज़म का पलटवार 

रामपुर। कैबिनेट मंत्री आजम खां ने धर्म परिवर्तन कर मुसलमान बनने की धमकी देने वालों पर तंज कसते हुए कहा कि सिर्फ टोपी पहनने से कोई मुसलमान नहीं हो जाता। धर्म के नाम पर माहौल बनाया जा रहा है। शनिवार को काशीपुर स्थित मदरसा मिसबाहुल उलूम के सालाना जलसे को खिताब करते हुए उन्होंने कहा कि धर्म के ठेकेदार कहलवाने वाले लोग माहौल बिगाड़ने की कोशिश में लगे हैं। वाल्मीकी बस्ती प्रकरण पर उन्होंने कहा कि टोपी बांटने वाला कौन है, यह भी वाल्मीकी बस्ती में जाकर पता करना पड़ेगा। जनपद में ही बारिश से किसानों का 111 करोड़ का नुकसान हुआ है। किसानों की मौत भी हुई है, लेकिन देश का बादशाह कपड़े बदलने में व्यस्त है। दिन में 30 सूट बदले जा रहे हैं। बादशाह को हमारी भैंस चोरी होने की फिक्र होती है और मिलती हैं तो अफसोस होता है। उन्होंने कहा कि नेपाल से कन्याकुमारी तक जितने भी मदरसे हैं, उन्हें आतंकी गतिविधियों से जोड़कर देखा जा रहा है, जबकि मदरसे दीन और तालीम की असली जिम्मेदारी निभा रहे हैं। गौरतलब है कि पहले रामपुर में अतिक्रमण की जद में आयी वाल्मीकि बस्ती के लोगों ने घर गिराने पर और शुक्रवार को मेरठ के हड़ताली सफाई कर्मियों ने मांगें न मानने पर धर्म बदलने की धमकी दी थी।