बंगलादेश ने पाकिस्तान का किया सफाया

बंगलादेश ने पाकिस्तान का किया सफाया

ढाका : सौम्य सरकार के करियर के पहले शतक की मदद से बांग्लादेश ने आज यहां पाकिस्तान को आठ विकेट से हराकर 3 मैचों की सीरीज 3-0 अपने नाम करके पहली बार इस टीम के खिलाफ क्लीन स्वीप किया।

पाकिस्तान के 251 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए बांग्लादेश ने सरकार की 110 गेंद में 13 चौकों और छह छक्कों की मदद से खेली नाबाद 127 रन की तूफानी पारी की बदौलत सिर्फ 39.3 ओवर में ही दो विकेट पर 251 रन बनाकर आसान जीत दर्ज की। इससे पहले पाकिस्तान की टीम कप्तान अजहर अली (101) के करियर के पहले शतक के बावजूद 49 ओवर में 250 रन पर सिमट गई थी।

बांग्लादेश की यह जीत इसलिए भी खास है क्योंकि सीरीज के पहले मैच में जीत के साथ उसने 16 साल बाद पाकिस्तान के खिलाफ अपनी सिर्फ दूसरी जीत दर्ज की थी। लक्ष्य का पीछा करने उतरे बांग्लादेश को सरकार और तमीम इकबाल (64) ने पहले विकेट के लिए 145 रन जोड़कर शानदार शुरुआत दिलाई। सरकार ने इसके बाद मुशफिकर रहीम (नाबाद 49) के साथ तीसरे विकेट के लिए 11.4 ओवर में 97 रन की अटूट साझेदारी करके टीम की जीत सुनिश्चित की।

पहले दो मैचों में शतक जड़ने वाले तमीम ने 76 गेंद का सामना करते हुए आठ चौके और एक छक्का मारा जबकि रहीम की 43 गेंद की पारी में छह चौके शामिल रहे। पाकिस्तान की ओर से एकमात्र सफल गेंदबाज जुनैद खान (67 रन पर दो विकेट) रहे।

इससे पहले पाकिस्तान की ओर से अजहर ने 112 गेंद में 10 चौकों की मदद से 101 रन की पारी खेली। अजहर ने पदार्पण कर रहे साथी सलामी बल्लेबाज समी असलम (45) के साथ पहले विकेट के लिए 91 रन और हारिस सोहेल (52) के साथ तीसरे विकेट के लिए 98 रन की साझेदारी की। असलम ने 50 गेंद की अपनी पारी में सात चौके मारे जबकि सोहेल ने 58 गेंद की पारी में एक चौका और दो छक्के जड़े।

अजहर और असलम ने टीम को शानदार शुरुआत दिलाई। दोनों ने बांग्लादेश के स्पिनरों का आसानी से सामना किया। नासिर हुसैन ने असलम को विकेटकीपर मुशफिकर रहीम के हाथों कैच कराकर इस साझेदारी को तोड़ा। मोहम्मद हफीज एक बार फिर नाकाम रहे और फिर चार रन बनाने के बाद अराफात सनी की गेंद पर बोल्ड हो गए।

अजहर और सोहेल ने इसके बाद पारी को संवारा। अजहर ने बांग्लादेश के कप्तान मशरेफ मुर्तजा पर दो रन के साथ अपना पहला शतक पूरा किया। वर्ष 2010 में शाहिद अफरीदी के शतक के बाद अजहर शतक जड़ने वाले पहले पाकिस्तानी कप्तान हैं।

अजहर हालांकि इसके तुरंत बाद साकिब हल हसन की गेंद पर बोल्ड हो गए जिससे 39वें ओवर में पाकिस्तान का स्कोर तीन विकेट पर 203 रन हो गया। चार रन बाद सोहेल भी पवेलियन लौट गए। पाकिस्तान का बल्लेबाजी क्रम इसके बाद ढह गया। टीम ने इसके बाद बल्लेबाजी की अनुकूल पिच पर 43 रन पर अंतिम छह विकेट गंवा दिए। बायें हाथ के स्पिनरों साकिब और सनी के अलावा तेज गेंदबाजों मुर्तजा और रूबेल हुसैन ने भी दो दो विकेट चटकाए।