खेमका ने मोदी की नीयत पर उठाया सवाल

खेमका ने मोदी की नीयत पर उठाया सवाल

चंडीगढ़। कई दिनों की चुप्पी के बाद सोशल मीडिया में आए हरियाणा के चर्चित आईएएस अधिकारी अशोक खेमका ने इस बार टवीटर के माध्यम से मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर को छोडक़र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साध दिया है। यह पहला मौका है जब अशोक खेमका ने नरेंद्र मोदी के भाषण को लेकर टवीट किया है। खेमका के इस टवीट की दिनभर सचिवालय में चर्चा होती रही।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गत दिवस सिविल सेवा दिवस के अवसर पर दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम के दौरान देशभर के आईएएस अधिकारियों को संबोधित किया था। जिसमें उन्होंने कई तरह की लच्छेदार बातें करते हुए अधिकारियों को कहा था कि वह रोबोटिक न बनें और विकास का ऐसा रास्ता तैयार करें, जिसमें अमीर-गरीब के बीच की खाई दूर हो सके। मोदी ने कहा था कि हमारा काम केवल विभाग चलाना नहीं बल्कि नए व आधुनिक तरीकों को अपनाना होगा। मोदी ने राजनीतिक हस्तक्षेप के बारे में बोलते हुए कहा था कि नौकरशाही में अड़ंगा नहीं अपितु दखल जरूरी होता है।

अशोक खेमका को प्रधानमंत्री के इन बयानों में विरोधाभास नजर आया। मोदी के इस भाषण के बाद अशोक खेमका ने एक टवीट किया। जिसमें उन्होंने भाषण पर कटाक्ष करते हुए कहा है कि राजनीतिक हस्तक्षेप, राजनीतिक मध्यस्थता दोनों के बीच का अंतर स्पष्ट नहीं है। दोनों में कुछ धुंधलापन है। नियत न हो तो नीति नाकाम। अशोक खेमका के इस टवीट को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयानों पर पलटवार की तरह देखा जा रहा है। हरियाणा सचिवालय की आईएएस व आईपीएस लॉबी में आज खेमका के इस टवीट की चर्चा हर जगह होती रही।

India