मोदी ने मंत्रियों की थपथपाई पीठ

मोदी ने मंत्रियों की थपथपाई पीठ

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी पार्टी के सांसदों को जमीनी स्तर तक पहुंचने और आमजन से सीधा संवाद कर सरकार की कल्याणकारी योजनाओं को सफल बनाने के लिए पाठ पढ़ा रहे हैं। सांसदों को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि हमारी सरकार राजनीति नहीं, राष्ट्रनीति पर काम कर रही है।

अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि यमन से भारतीयों को निकालना कोई छोटी घटना नहीं है। इसके लिए जनरल वीके सिंह और सुषमा जी की जितनी तारीफ की जाए कम होगी। मोदी ने कहा कि मीडिया ने जिस तरह से संसद चलने के लिए दबाव बनाया, वह बहुत अच्छी बात है। इस वजह से संसद के कामों में 125 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है।

पीएम मोदी ने इस दौरान कहा कि इस बार के विदेश दौरे का मूल कारण मेक इन इंडिया के लिए पैसे जुटाना था। मेक इन इंडिया के लिए जर्मनी दौरा बेहद अच्छा रहा। फ्रांस रिएक्टर टेक्नोलॉजी देने के लिए सहमत हुआ है। ये हमारे लिए बड़ी उपलब्धि है। भूमि अधिग्रहण पर मोदी ने कहा कि इसको लेकर पूरे देश में भ्रम फैलाया जा रहा है। हमारी सरकार अंबानी के लिए जमीन नहीं मांग रही है।

मोदी ने कहा कि हमारी सरकार गरीबों के लिए समर्पित है। महंगाई में कमी आई है इससे गरीबों का ही तो भला होगा। चार लाख लोगों ने गैस सब्सिडी छोड़ी है। इस सब्सिडी का पैसा हम सरकारी खजाने में नहीं डालेंगे। हमारी सरकार सब्सिडी वाला रसोई गैस सिलेंडर उन गरीबों को देगी जो आज भी चूल्हे जलाते हैं और धुएं की बीमारी से ग्रसित है। मोदी ने जनधन योजना की सफलता का भी उदाहरण देते हुए कहा कि देश में गरीबों की ताकत जितनी बढ़ेगी, राष्ट्रनीति उतनी सफल होगी।

मोदी ने सांसदों से आग्रह किया कि वो अपने-अपने क्षेत्रों में जाएं और किस तरह सरकार ने मनरेगा का पैसा सीधे गरीबों के खाते में जा रहा है, कैसे सरकार मनरेगा में फैले भ्रष्टाचार को उजागर कर रही है, जनधन योजना की सफलता आम जनता को बताएं। किस तरह से यह सरकार गरीबों की ताकत को बढ़ा रही है यह लोगों को बताना जरूरी है। मोदी ने कहा कि हम यहां सत्ता भोगने के लिए नहीं आए हैं। हममें सत्ता का नशा नहीं चढ़ता है।  

संसद के बालयोगी ऑडोटोरियम में आयोजित इस कार्यशाला का आगाज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण से हुआ। इस कार्यशाला के अंत में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह सांसदों को संबोधित करेंगे। भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी भी मौजूद हैं। कार्यशाला में गरीबों के कल्याण से जुड़ी केंद्र की योजनाओं पर चर्चा की जाएगी।

सुषमा स्वराज, वेंकैया नायडू और थावर चंद गहलोत समेत कई वरिष्ठ मंत्री विकास योजनाओं के बारे में अवगत कराएंगे। इस दौरान परिवहन मंत्री नितिन गडकरी 'सांसद आदर्श ग्राम योजना' पर एक प्रस्तुति देंगे जबकि स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा एमपीलैड फंड के बारे में बताएंगे।

India