तमीम-रहीम के आगे पाकिस्तान पस्त

तमीम-रहीम के आगे पाकिस्तान पस्त

बांग्लादेश ने 16 साल बाद पाकिस्तान को हराया

ढाका : सलामी बल्लेबाज तमीम इकबाल और विकेटकीपर बल्लेबाज मुशफिकर रहीम के शतकों की मदद से रिकार्ड स्कोर बनाने वाले बांग्लादेश ने पहले एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में पाकिस्तान को 79 रन से करारी शिकस्त देकर 16 साल बाद अपने इस प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ कोई जीत दर्ज की। तमीम ने 135 गेंदों पर 15 चौकों और तीन छक्कों की मदद से 132 रन बनाये जबकि रहीम ने 77 गेंदों पर 106 रन की तूफानी पारी खेली जिसमें 13 चौके और दो छक्के शामिल हैं। इन दोनों ने तीसरे विकेट के लिये 178 रन की रिकार्ड साझेदारी की जिससे टास जीतकर पहले बल्लेबाजी करने के लिये उतरे बांग्लादेश ने छह विकेट पर 329 रन बनाये जो वनडे में उसका सबसे बड़ा स्कोर है।

इसके जवाब में पाकिस्तान की टीम 45.2 ओवर में 250 रन पर आउट हो गयी। कप्तान के रूप में अपना पहला मैच खेल रहे अजहर अली ने उसकी तरफ से सर्वाधिक 72 रन बनाये। उनके अलावा अपना पहला वनडे खेल रहे मोहम्मद रिजवान और हारिस सोहेल ने भी अर्धशतक लगाये। पाकिस्तान ने आखिरी छह विकेट 33 रन के अंदर गंवाये। बांग्लादेश की टेस्ट दर्जा हासिल करने के बाद पाकिस्तान के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय मैचों में यह पहली जीत है। इससे उसने तीन वनडे मैचों की श्रृंखला में भी 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है। बांग्लादेश ने इससे पहले पाकिस्तान को 1999 विश्व कप में नार्थम्पटन में हराया था। पाकिस्तानी टीम बड़े लक्ष्य के दबाव में बिखर गयी। बीच में अजहर और सोहेल ने तीसरे विकेट के लिये 89 रन जोड़कर उम्मीद जगायी लेकिन इसके बाद लगातार विकेट गंवाने से उसे बड़ी हार झेलनी पड़ी। बांग्लादेश की तरफ से तास्किन अहमद ने 42 रन देकर तीन और अराफात सनी ने 47 रन देकर तीन विकेट लिये।

बांग्लादेश ने सौम्या सरकार और महमुदुल्लाह  के विकेट जल्दी गंवा दिये लेकिन इसके बाद तमीम और रहीम ने पाकिस्तानी गेंदबाजों विशेषकर अवैध गेंदबाजी एक्शन के कारण आठ महीने तक बाहर रहने के बाद वापसी करने वाले सईद अजमल के खिलाफ मनमाफिक रन बनाये। अजमल ने दस ओवर में 74 रन दिये और उन्हें कोई विकेट नहीं मिला। वहाब रियाज पाकिस्तान की तरफ से सबसे सफल गेंदबाज रहे। उन्होंने 59 रन देकर चार विकेट लिये। तमीम ने वनडे में अपना पांचवां शतक पूरा किया जबकि रहीम ने तीसरा शतक लगाया। रहीम ने केवल 69 गेंदों पर शतक बनाया जो बांग्लादेश की तरफ से वनडे में तीसरा सबसे तेज शतक है। कप्तान शाकिब अल हसन ने बाद में 31 रन की पारी खेली।