गिलानी, मसरत आलम नजरबंद

गिलानी, मसरत आलम नजरबंद

श्रीनगर : हुर्रियत कांफ्रेंस के कट्टरपंथी धड़े के प्रमुख सैयद अली शाह गिलानी और कट्टरपंथी अलगाववादी नेता मसर्रत आलम को पुलवामा के ट्राल कस्बे में उनकी प्रस्तावित रैली की पूर्वसंध्या पर नजरबंद कर दिया गया।

श्रीनगर में कुल पांच अलगाववादियों को नजरबंद किया गया है। गिलानी के साथ ही मसरत आलम को भी नजरबंद किया गया है। मीरवाइज और शब्बीर शाह को भी नजरबंद किया गया है। राज्य सरकार ने इस रैली के आयोजित करने पर रोक लगा दी है।

एक पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘गिलानी को नजरबंद किया गया है। हैदरपोरा स्थित उनके आवास के बाहर पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है। कानून-व्यवस्था कायम रखने के लिए ऐहतियातन यह कदम उठाया गया है।’ अधिकारी ने कहा कि मसर्रत आलम को भी नजरबंद किया गया है।

गिलानी ने दक्षिणी कश्मीर के ट्राल कस्बे में शुक्रवार को मार्च का ऐलान किया है। इस कस्बे में बीते सोमवार को आतंकवाद विरोधी अभियान के दौरान दो युवक मारे गए थे। पुलिस ने गुरुवार को श्रीनगर में एक रैली के दौरान कथित तौर पर राष्ट्र विरोधी नारेबाजी करने के लिए गिलानी और मसर्रत आलम के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधियां रोकथाम कानून (यूएपीए) कानून के तहत मामला दर्ज किया था।

India