अल्काटेल ल्यूसेंट का होगा नोकिया में विलय

अल्काटेल ल्यूसेंट का होगा नोकिया में विलय

लंदन: फिनलैंड की नोकिया और फ्रांसीसी दूरसंचार उपकरण विनिर्माता अल्काटेल ल्यूसेंट ने घोषणा की कि उनके बीच आपस में विलय के लिए शेयरों के लेन-देन के आधार पर 15.06 अरब यूरो का सौदा हुआ है। नयी इकाई नोकिया कापरेरेशन कही जाएगी।

यह सौदा अल्काटेल-ल्यूसेंट के बेल लैब्स और नोकिया के फ्यूचरवर्क्‍स की नवप्रवर्तन की शक्ति को और मजबूत करने के उद्येश्य से किया गया है। नोकिया समूह इस विलय के बाद संगठन का नेतृत्व करेगा। रिस्तो सिलास्मा कंपनी को कंपनी का चेयरमैन और राजीव सूरी को मुख्य कार्यकारी बनाए जाने की बात है।

नोकिया के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी राजीव सूरी ने एक बयान में कहा कि अल्काटेल-ल्यूसेंट और नोकिया मिलकर अगले दौर की नेटवर्क प्रौद्योगिकी तथा सेवाओं का नेतृत्व करना चाहते हैं जिसमें लोगों और चीजों के लिए कहीं से भी किसी से अबाध संपर्क बनाने में की संभावना बनेगी।

उन्होंने कहा ‘हमारी नवोन्मेष क्षमता असाधारण होगी, नोकिया के अनुंसधान एवं विकास को अल्काटेल-ल्यूसेंट और इसके मशहूर बेल लैब्स के साथ जोड़ा जाएगा। हम इस शक्ति को एक बहुत दक्ष और सुडौल परिचालन के साथ जोड़ा जाएगा ताकि विश्वस्तर पर प्रतिस्पर्धी रहा जा सके।’ नोकिया कापरेरेशन में 33.5 प्रतिशत शेयर अल्काटेल ल्यूसेंट के शेयरधारकों और 66.5 प्रतिशत शेयर नोकिया के शेयरधारकों के पास होंगे।

इस सौदे के तहत पेटेंट विकसित और लाइसेंस करने वाली नोकिया टेक्नोलाजीज और नोकिया ब्रांड अलग इकाई के तौर पर काम करेंगे। दोनों कंपनियों के निदेशक मंडल ने प्रस्तावित सौदे की शर्तों को मंजूरी दी जो 2016 की पहली छमाही में पूरी होने की उम्मीद है।