विश्व शक्तियां यमन विद्रोहियों के खिलाफ हुई एकजुट

विश्व शक्तियां यमन विद्रोहियों के खिलाफ हुई एकजुट

संयुक्त राष्ट्र: यमन के हुती विद्रोहियों पर संयुक्त राष्ट्र द्वारा हथियार प्रतिबंध और अमेरिका के नये प्रतिबंध लगाने के साथ ही विश्व शक्तियां उनके खिलाफ एकजुट हो गयी हैं। विदेशी-मध्यस्थ वार्ता के बाद विद्रोहियों का समर्थन करने के आरोपी देश ईरान द्वारा एक संघषर्विराम प्रस्तावित किए जाने के बाद कल संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का मतदान हुआ।

हुती विद्राहियों ने राष्ट्रपति अबेद्राब्बो मंसूर हादी को गरीब अरब देश से भागने को विवश कर दिया था। ईरान पर सउदी अरब द्वारा विद्रोह भड़काने का आरोप लगाए जाने के साथ ही पश्चिम एशिया में तनाव और भी ज्यादा बढ़ गया है । सउदी अरब के नेतृत्व वाले सुन्नी देशों का गठबंधन शिया विद्राहियों के खिलाफ हवाई हमले कर रहा है और इन हमलों में मरने वाले नागरिकों की संख्या बढ़ती जा रही है।

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने हुती विद्रोहियों पर हथियार प्रतिबंध लगा दिया है और कहा है कि वे राजधानी सना से वापस चले जाएं। इसके साथ ही संयुक्त राष्ट्र ने मांग की है कि ईरान इन प्रतिबंधों का पालन करे।