गडकरी ने दुष्कर्म को धर्म से जोड़ा, कांग्रेस ने की निंदा

गडकरी ने दुष्कर्म को धर्म से जोड़ा, कांग्रेस ने की निंदा

पणजी। केन्द्रीय यातायात मंत्री नीतिन गडकरी ने अपने बयान से नए विवाद को हवा दे दी है। उन्होंने गुरूवार को कहाकि, कुछ दिनों पहले कोलकाता में नन से दुष्कर्म के आरोपी दो युवक बांग्लादेशी मुसलमान थे। उनके इस बयान पर कांग्रेस की गोवा इकाई ने आपत्ति जताते हुए इसकी निंदा की है।

गोवा कांग्रेस के सचिव दुर्गादास कामत ने कहाकि, दुष्कर्म को किसी धर्म से नहीं जोड़ना चाहिए। दुष्कर्म बीमार दिमाग वाले व्यक्ति द्वारा किया जाता है। हमें दुष्कर्मी को सजा देनी चाहिए न कि इस तरह के अपराधों में धर्म को बीच में लाना चाहिए। गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल के नादिया जिले में एक बुजुर्ग नन के साथ लूट के बाद सामूहिक दुष्कर्म किया गया था। इस घटना के बाद खासा बवाल मचा था। पुलिस ने इस मामले में दो बांग्लादेशी युवकों को मुंबई और उत्तरी 24 परगना जिले से गिरफ्तार किया था।

गडकरी ने चर्च पर होने वाले हमलों के मामले में केन्द्र सरकार का बचाव करते हुए कहाकि, जांच में पुलिस ने भी माना कि यह साम्प्रदायिक प्रकृति वाले मामले नहीं है। इस तरह की घटनाएं दुर्भाग्यपूर्ण हैं और उनका प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से भाजपा का कोई संबंध नहीं है। नरेन्द्र मोदी और भाजपा को नए तरीकों से निशाना बनाया जा रहा है। कहा जा रहा है कि इस सरकार के दौरान अल्पसंख्यकों पर हमले की घटनाएं बढ़ी हैं और यह सरकार अल्पसंख्यकों के खिलाफ है। इसके जरिए विपक्ष अल्पसंख्यकों में सरकार के प्रति डर बढ़ा रहा है

India