आईपीएल पर फिर मंडराया फ़िक्सिंग का साया

आईपीएल पर फिर मंडराया फ़िक्सिंग का साया

राजस्थान रॉयल्स के खिलाड़ी को हुई पैसे की पेशकश

नई दिल्ली: आईपीएल सीजन-8 के अभी दो ही मैच हुए हैं, लेकिन इस लीग पर फिक्सिंग का साया मंडराने लगा है। राजस्थान रॉयल्स के एक खिलाड़ी को पैसे की पेशकश कई गई है, जिसके बारे में खुद खिलाड़ी ने बीसीसीआई की एंटी करप्शन यूनिट को जानकारी दी।

आईपीएल सीजन 8 में तीसरा मुकाबला किंग्स इलेवन पंजाब और राजस्थान रॉयल्स के बीच शुक्रवार को खेला जाना है, उससे ठीक एक दिन पहले यह मामला सामने आया है।

इसमें दिलचस्प पहलू यह है कि इस खिलाड़ी को उसकी रणजी टीम के साथी ने ही पैसों की पेशकश की। मुंबई स्थित राजस्थान रॉयल्स को जब रणजी टीम के साथी ने पैसों की पेशकश की तो उन्हें पहले मजाक लगा, लेकिन बाद में उन्होंने इसकी गंभीरता को समझते हुए सबसे पहले राजस्थान रॉयल्स के एक वरिष्ठ अधिकारी को इसकी जानकारी दी।

इसके बाद मामला एंटी करप्शन यूनिट तक पहुंचा। कथित तौर पर जिस खिलाड़ी ने पैसों की पेशकश की, वह आईपीएल टी-20 का हिस्सा नहीं है। बीसीसीआई से जुड़े एक अधिकारी ने बताया है कि जिस खिलाड़ी को पैसे की पेशकश हुई, उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होगी, क्योंकि उसने मामले की रिपोर्ट की।

आईपीएल सीजन 6 यानी 2013 के सीजन में राजस्थान रॉयल्स के तीन-तीन क्रिकेटर फिक्सिंग के आरोप में गिरफ्तार किए गए थे, जिसमें टेस्ट क्रिकेटर एस श्रीसंत भी शामिल थे। श्रीसंत के अलावा अजीत चंडिला और अंकित चव्हान भी फिक्सिंग में लिप्त पाए गए थे।

सीजन 6 के फिक्सिंग मामले में ही बोर्ड के तत्कालीन मुखिया एन श्रीनिवासन के दामाद गुरुनाथ मयप्पन पर भी जांच का शिकंजा कसा था। बाद में मयप्पन को सट्टेबाज़ी का दोषी पाया गया था।