सुनील नरेन के आने से केकेआर के हौसले बुलंद

सुनील नरेन के आने से केकेआर के हौसले बुलंद

आईपीएल-8: मुंबई इंडियंस ज़ोरदार टक्कर देने को तैयार 

कोलकाता : सुनील नारायण विवाद को भुलाकर कोलकाता नाइटराइडर्स बुधवार को यहां ईडन गार्डंस पर ताबड़तोड़ क्रिकेट के जलसे आईपीएल के पहले मैच में मुंबई इंडियंस जैसी मजबूत टीम के खिलाफ अपने अभियान का आगाज करेगी। वेस्टइंडीज के रहस्यमयी स्पिनर नारायण के गेंदबाजी एक्शन की शिकायत चैम्पियंस टी20 लीग में की गई थी। वह विश्व कप भी नहीं खेल सके थे लेकिन बीसीसीआई ने रविवार को उन्हें क्लीनचिट दे दी।

केकेआर ने 2011 में नारायण को टीम में शामिल करने के बाद से 2012 और 2014 में खिताब जीते। इस बार हालांकि गेंदबाजी एक्शन में बदलाव के बाद यह देखना होगा कि उनका यह ‘ट्रंपकार्ड’ कितना प्रभावी रहता है। केकेआर ने ईडन के धीमे विकेट का फायदा उठाने के लिये नारायण के जैसे स्पिनर केसी करियप्पा को दो करोड़ 40 लाख रुपये में खरीदा। इसके अलावा दो चाइनामैन गेंदबाज भी टीम में हैं।

शहर में हालांकि कल बारिश का पूर्वानुमान है लिहाजा स्पिनरों के लिये गेंद पर पकड़ बनाना मुश्किल होगा और फील्डरों को भी एहतियात बरतनी होगी। मैदान पर दोनों टीमें कागजों पर बराबरी की है। मुंबई के पास कीरोन पोलार्ड, कोरे एंडरसन और आरोप फिंच जैसे पिंच हिटर हैं। मुंबई ने इसी मैदान पर 2013 में खिताब जीता था जब उसने चेन्नई सुपर किंग्स को मात दी थी। पिछले साल हालांकि मुंबई को लगातार पांच हार झेलनी पड़ी लेकिन राजस्थान रायल्स पर नाटकीय जीत के बाद टीम अंतिम चार में पहुंची जहां उसे चेन्नई सुपर किंग्स ने हराया।

राजस्थान के खिलाफ जीत के नायक एंडरसन थे जिन्होंने सिर्फ 44 गेंद में नाबाद 95 रन बनाये थे। इस बार भी वह आस्ट्रेलियाई सलामी बल्लेबाज फिंच के साथ टीम के प्रमुख बल्लेबाजों में होंगे। कप्तान रोहित लगातार अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाते लेकिन अपने पसंदीदा ‘ईडन’ पर वह उम्दा पारी खेलना चाहेंगे। इसी मैदान पर पिछली बार श्रीलंका के खिलाफ उन्होंने वनडे क्रिकेट में विश्व रिकार्ड 264 रन बनाये थे। केकेआर के राबिन उथप्पा 11 रणजी मैचों में 912 रन बना चुके हैं। वह कप्तान गौतम गंभीर के साथ पारी का आगाज करेंगे जबकि मध्यक्रम में मनीष पांडे और सूर्यकुमार यादव हैं। युसूफ पठान पिछले कुछ अर्से से खराब फार्म में हैं लेकिन अपने दम पर मैच जिताने का माद्दा रखते हैं।

विदेशी खिलाड़ियों में दुनिया के शीर्ष हरफनमौलाओं में शुमार बांग्लादेश के शाकिब अल हसन की भूमिका अहम होगी। योहान बोथा, ब्राड हाग और अजहर महमूद भी उपयोगी साबित हो सकते हैं। लसिथ मलिंगा और आर विनय कुमार मुंबई की तेज गेंदबाजी का जिम्मा संभालेंगे जबकि मेजबान तेज आक्रमण की कमान मोर्नी मोर्कल और उमेश यादव के हाथ में होगी। मुंबई के पास स्पिन गेंदबाजी में हरभजन सिंह और प्रज्ञान ओझा है। मुंबई का सहयोगी स्टाफ भी सितारों से भरा है। तीन बार के विश्व कप विजेता रिकी पोंटिंग कोच हैं तो चैम्पियन बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर टीम आइकन हैं। सहयोगी स्टाफ में जान राइट, जोंटी रोड्स, शेन बांड, किरण कोरे, पारस म्हाम्ब्रे और राहुल सांघवी भी हैं।