सपा-बसपा का वाक युद्ध नूरा कुश्ती का खेल : पाठक

सपा-बसपा का वाक युद्ध नूरा कुश्ती का खेल : पाठक

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी ने कहा कि बसपा के भ्रष्टाचार की दुर्गन्ध की चर्चा तो समाजवादी पार्टी करती है, किन्तु भ्रष्टाचार पर कार्यवाही कब करेगी ? प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक ने कहा कि सपा प्रवक्ता को यह तो याद है कि बसपा प्रमुख को पत्थरों की चित्कार सुनाई पड़ने लगी है किन्तु इन पत्थरों के माध्यम से प्रदेश में जो जन-धन की लूट हुई उस पार कार्यवाही की चीत्कार उन्हे सुनाई नहीं पड़ रही है।

मंगलवार को पार्टी मुख्यालय पर पत्रकारों से चर्चा के दौरान सपा-बसपा के बीच शुरू हुए वाक युद्ध पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए प्रदेश प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक ने कहा कि सपा-बसपा नूरा कुश्ती का खेल खेल रहे है एक दूसरे के खिलाफ आक्रमक भाषा का प्रयोग करते ये दल एक दूसरे के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की बात तो करते है किन्तु जब कार्यवाही का मौका आता है तो एक दूसरे को सेफ पैसेज देने में जुट जाते है। बसपा शासनकाल में हुए जन-धन की लूट पार्को के निर्माण में हुई गड़बडि़यों को लेकर लगातार समाजवादी पार्टी आवाज उठाती रही। 

उन्होंने कहा कि सपा प्रवक्ता कहते है कि तीन वर्ष में समाजवादी पार्टी के चुनाव घोषणा पत्र को अधिकांशता पूरा कर दिया गया है। किन्तु जब वे कह रहे थे तो उन्हे याद नही है कि बसपा के भ्रष्टाचार की दुर्गन्ध पर उनके घोषणा पत्र में ही कहा गया है कि पिछले पांच वर्ष में हुए भ्रष्टाचार की जांच एक आयोग द्वारा कराई जायेगी जो निश्चित समय सीमा में अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगा। अब तीन वर्षो में यदि आयोग का गठन ही नहीं हो पाया तो जांच निश्चित समय सीमा में कैसे प्रस्तुत होगी। फिर भ्रष्टाचार की दुर्गन्ध को रोकने के क्या उपाय सत्ता में आने के बाद किये ?

श्री पाठक ने कहा कि बसपा के मंत्रियों ने भ्रष्टाचार के सभी रिकार्ड तोड़े इसको कहने के बजाय जो तथ्यात्मक जांच रिर्पाेटे है उनको संजीदगी से लेते हुए बजाय इसके कि सेफ पैसेज दिया जाये कार्यवाही कराते।

Lucknow, Uttar Pradesh, India