अजलन शाह हॉकी: भारत ने दक्षिण कोरिया के साथ बांटे अंक

अजलन शाह हॉकी: भारत ने दक्षिण कोरिया के साथ बांटे अंक

इपोह (मलेशिया) : भारत ने रविवार को दक्षिण कोरिया को 2-2 से बराबरी पर रोककर 24वें अजलन शाह कप हॉकी टूर्नामेंट की संतोषजनक शुरुआत की। नीदरलैंड के पाल वान ऐस का यह भारतीय पुरुष टीम के मुख्य कोच के रूप में पहला मैच था।

भारत को 10वें मिनट में निकिन थिमैया ने बढ़त दिलाई, लेकिन इसके बाद कोरिया के लिए हेसुंग ह्युन (24वें मिनट) और सियोंगक्यू ली (53वें मिनट) ने एक-एक गोल दागकर अपनी टीम को 2-1 से आगे कर दिया।

वीआर रघुनाथ (56वें मिनट) ने इसके बाद पेनल्टी कॉर्नर को गोल में तब्दील करके भारत के लिए एक अंक सुनिश्चित किया। कोरिया को भी एक अंक मिला। धीमी शुरूआत करने के बाद भारत ने समय पर लय हासिल की।

गोल करने की पहली कोशिश कोरिया ने मैच के आठवें मिनट में की जब सियोंगक्यू किम के शॉट को भारतीय गोलकीपर पीआर श्रीजेश ने आसानी से रोक दिया। दो मिनट बाद आकाशदीप सिंह को भारत को बढ़त दिलाने का मौका मिला लेकिन उनके शॉट को कोरिया के गोलकीपर जेहियोन किम ने रोक दिया।

भारत को हालांकि इसके बाद अधिक इंतजार नहीं करना पड़ा जब थिमैया ने रमनदीप सिंह के पास पर 10वें मिनट में फ्लिक करके गेंद को गोल में डालकर टीम को बढ़त दिला दी।

दूसरे क्वार्टर में चार मिनट बाद भारत को बढ़त दोगुनी करने का मौका मिला, लेकिन विरोधी टीम के गोलकीपर ने दो बार शानदार बचाव करते हुए धर्मवीर सिंह और सतबीर सिंह के प्रयासों को विफल कर दिया। कोरिया ने इसके बाद पलटवार किया, जिससे उसे 24वें मिनट में लगातार दो पेनल्टी कॉर्नर मिले, जिसमें से दूसरे पर ह्युन ने श्रीजेश की बायीं तरफ से गेंद को गोल में पहुंचा दिया।

आकाशदीप इसके बाद दुर्भाग्यशाली रहे जब उनका शॉट गोल पोस्ट से टकरा गया। मध्यांतर तक स्कोर 1-1 से बराबर था। मध्यांतर के बाद भारत ने कोरियाई डिफेंस पर दबाव जारी रखा, लेकिन टीम गोल करने में सफल नहीं हुई।

रमनदीप ने तीसरे और चौथे क्वार्टर में गोल करने के दो सुनहरे मौके गंवाए। पहली बार 43वें मिनट में उन्हें सिर्फ गोलकीपर को छकाना था लेकिन उन्होंने शॉट बाहर मार दिया। इसके बाद कप्तान सरदार सिंह के पास पर भी वह शॉट को बाहर खेलकर गोल करने का मौका गंवा बैठे।

कोरिया को इसके बाद दो पेनल्टी कॉर्नर मिले। पहले को भारतीय गोलकीपर और उप-कप्तान श्रीजेश ने शानदार तरीके से रोका, जबकि दूसरा दाहिने गोल पोस्ट से टकराकर बाहर निकल गया। श्रीजेश ने शानदार बचाव करते हुए जुंग जुन ली को भी गोल से वंचित रखा, लेकिन 53वें मिनट में सियोंगक्यू ने गोल दागकर कोरिया को 2-1 से आगे कर दिया।

इस गोल से स्तब्ध भारतीय टीम ने लगातार आक्रमण जारी रखे और इस दौरान टीम को पहला पेनल्टी कॉर्नर मिला, जिसे रघुनाथ ने गोल में बदलने में कोई गलती नहीं की। जिससे नये मुख्य कोच ने भी राहत की सांस ली होगी।

भारत को अपने अगले मैच में सोमवार को न्यूजीलैंड का सामना करना है, जबकि कोरिया को कनाडा से भिड़ना है।