किसानों की मौत पर तत्काल मुआवजा दे सरकार : डाॅ0 मनोज मिश्र

किसानों की मौत पर तत्काल मुआवजा दे सरकार : डाॅ0 मनोज मिश्र

लखनऊ:  भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश में ओलावृष्टि, अतिवृष्टि और तूफानी हवाओं से हो रही किसानों की मौत पर गहरा दुख व्यक्त किया हैं। पार्टी प्रवक्ता डाॅ0 मनोज मिश्र ने कहा कि इन दैवीय आपदाओं से प्रदेश में लगभग 200 किसानों की असामयिक मौत हो चुकी हैं। प्रदेश की सपा सरकार किसानों को इस संकट की घडी में अकेला छोडकर लापरवाही का प्रदर्शन कर रही है। प्रदेश के किसान राम हवाले है और सरकार किसानों की मौतों को स्वीकार न कर उनके जले पर नमक छिड़कर रही है। उन्होंने मांग की किसानों की मौत पर सरकार उचित मुआवजा दे।

प्रवक्ता डाॅ0 मिश्र ने कहा कि प्रदेश में इस मौसम की मार से किसान परेशान हैं। वारिश, ओलावृष्टि  और तूफानी हवाओं से किसानों की फसलें बर्बाद हो गई है। प्रदेश में किसानों की बडे पैमाने पर इस आपदा के कारण मौते हो रही है। प्रदेश की सपा सरकार किसानों की मौत को मौत नहीं मान रही है। अकेले कल ही प्रदेश में लगभग 20 किसानों की आत्महत्या या हार्टअटैक से मौतें हो गई है। प्रदेश में किसानों की मदद के लिए सरकार आगे नहीं आ रही हैं। तकनीकी कारणों को बहाना बनाया जा रहा है। सरकार द्वारा मदद की सिर्फ घोेषणा की गई परन्तु मदद मिली किसी किसान को नहीं। 

डाॅ0 मिश्र ने कहा कि पूरा प्रदेश इस समय दैवीय आपदा की चपेट में हैं। किसानों को सरकारी स्तर पर मदद नहीं मिल पा रही है। किसानों को राहत देने के नाम पर अभी तक कुछ भी धरातल पर दिखाई नहीं पड रही हैं सरकार ओर उसके अधिकारों सिर्फ थोथी घोषणाऐं कर रहे है। प्रदेश का किसान हैरान और परेशान है। 

डाॅ0 मिश्र ने सपा सरकार से मांग की कि सरकार तत्काल किसानों को वास्तविक मदद उन तक पहुॅचाने के लिए युद्ध स्तर पर प्रयास करे। सरकारी राहत की घोषणाऐं स्पष्ट और त्वरित हों । किसानों को हर हाल में महसूस होना चाहिए कि किसान वर्ष मानने वाली सरकार किसानों को साथ खडी है। उन्होंने कहा कि किसानों के हित के लिए सरकार तुरन्त वादे के मुताबिक किसान आयोग के गठन की घोषणा करें। किसानों की मौत पर सरकार उचित मुआवजा दे। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India