मध्य प्रदेश में रेत माफिया ने सिपाही को डम्पर से रौंदा

मध्य प्रदेश में रेत माफिया ने सिपाही को डम्पर से रौंदा

मुरैना (मप्र) : चम्बल नदी से अवैध रूप से रेत ले जा रहे रेत माफिया के एक डम्पर से कुचलकर कल देर रात एक पुलिस कॉन्सटेबल की मौत हो गई। कॉन्सटेबल इस डम्पर को रोकने का प्रयास कर रहा था। घटना जिले के नूराबाद पुलिस थाना क्षेत्र में लौहगढ़ के निकट हुई। इस घटना ने जिले में चम्बल नदी से अवैध रेल खनन करने वाले एक कथित रेत माफिया के सदस्यों द्वारा 2012 में भारतीय पुलिस सेवा के एक युवा अफसर नरेन्द्र कुमार की कुछ इसी तरह ट्रैक्टर ट्राली से कुचल कर की गई हत्या की याद ताजा कर दी है।

चम्बल रेंज के पुलिस महानिरीक्षक आर एस मीणा ने बताया कि मृत पुलिस कॉन्सटेबल का नाम धमेंन्द्र चौहान (40) है। मुखबिर की सूचना पर एक पुलिस टीम के साथ चौहान घटनास्थल पर पहुंचे थे जिसमें कहा गया था कि किसी लूट के फरार आरोपी आधी रात के आसपास सड़क किनारे खड़े एक डम्पर में छिपे देखे गए हैं। इस पर पुलिस टीम ने सड़क किनारे खड़े इस डम्पर की तलाशी लेने का निर्णय लिया।

उन्होंने कहा कि पुलिस को आते देखकर अवैध रेत से भरे डम्पर के चालक ने वाहन सहित भागने का प्रयास किया। लेकिन यह युवा पुलिस आरक्षक चालक के दरवाजे पर लटक गया और चालक को बाहर खींचने का प्रयास करने लगा। आईजी ने बताया कि इसी दौरान चालक ने डम्पर को पीछे की ओर करने का प्रयास किया, जिससे निकट स्थित एक गड्ढे में डम्पर पलट गया और उसके नीचे दबने से कॉन्सटेबल की मौत हो गई। उन्होंने कहा कि घटना के बाद डम्पर चालक मौके से फरार हो गया। मृत युवा पुलिस आरक्षक चौहान का शव पोस्टमार्टम के लिय भेज गया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है और मामले की विवेचना की जा रही है।

India