सिपाही-दरोगा भर्ती घोटाले की सी.बी.आई. जांच हो: डा0 मनोज मिश्र

सिपाही-दरोगा भर्ती घोटाले की सी.बी.आई. जांच हो: डा0 मनोज मिश्र

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश में सिपाही/दरोगा भर्ती घोटाले में अभ्यर्थियों पर कायम मुकदमें वापस लेने की मांग की है। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता डा0 मनोज मिश्र ने अरोप लगाया कि उ0प्र0 में सपा सरकार में सिपाही/दरोगा भर्ती में बड़े पैमाने पर घोटाला और घपला किया गया हैं। दरोगा भर्ती में अभ्यर्थियों ने इस घोटाले का संविधान की सीमाओं के अन्दर विरोध दर्ज किया। प्रदेश सरकार भ्रष्टाचार में घिरे होने के बावजूद आंदोलन को कुचलने के लिए अभ्यर्थियों और भाजपा कार्यकर्ताओं पर मुकदमें दायर कर रही है।

प्रवक्ता डा0 मिश्र ने सपा सरकार पर हमला करते हुए कहा कि भर्ती प्रक्रिया का विरोध पूरे प्रदेश में हो रहा है। सरकार और चयन बोर्ड़ भ्रष्टाचार के आरोपो के घेरे में है। पारदर्शी चयन प्रक्रिया का अभाव हैं। चयन में मनमाने तरीके से भ्रष्टाचार किया गया है। भर्ती ने घपलों और घोटालों में नया रिकार्ड बनाया है। सरकार निलिज्जता पूर्वक आरोपों का खण्डन कर रही है। भ्रष्टाचार का विरोध करने पर लाठीचार्ज व आंसू गैस छोड़े जा रहे है। अभ्यर्थियो ंपर झूठे मुकदमें कायम किये गये है। भ्रष्टाचार का विरोध करने पर भाजपा के युवा कार्यकर्ताओं पर भी मुकदमें दायर किये गये।

डा0 मिश्र ने कहा कि पार्टी भर्ती घोटाले का हर स्तर पर हर संभव विरोध करेगी। सपा सरकार द्वारा प्रदेश के बेरोजगार युवाओं के साथ अन्याय के विरोध में पार्टी जोरदार तरीके से खड़ी होगी।

डा0 मिश्र ने मांग की कि सिपाही/दरोगा भर्ती प्रक्रिया तत्काल रद्द की जाये। सीबीआई की जांच कराई जाये। अभ्यर्थियों और भाजपा कार्यकर्ताओं पर दायर मुकदमें सरकार तत्काल वापस ले। सरकार भर्तियों की पारदर्शी व ईमानदारी पूर्व व्यवस्था लागू करें। प्रदेश की युवा सरकारी भ्रष्टाचार केा बर्दाश्त नहीं करेगा।

Lucknow, Uttar Pradesh, India