अंग्रेज़ों के काले कानून की याद  दिलाता है मोदी का लैंड बिल: जयंत चौधरी

अंग्रेज़ों के काले कानून की याद दिलाता है मोदी का लैंड बिल: जयंत चौधरी

इलाहाबाद । राष्ट्रीय लोकदल इलाहाबाद के पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं द्वारा इलाहाबाद के नारीबाड़ी में किसानों की समस्याओं को लेकर एक बड़ी जनसभा आयोजित की गयी जिसके मुख्य अतिथि राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय महासचिव जयन्त चौधरी रहे। जनसभा में सैकड़ों कार्यकर्ताओं तथा किसानों ने हिस्सा लिया।  

जनसभा को सम्बोधित करते हुये राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय महासचिव  जयन्त चौधरी ने मोदी सरकार को घेरते हुये कहा कि केन्द्र सरकार की एक ही मंशा  है और वह है गरीब किसानों, और मजदूरों के मुंह से निवाला छीनकर पूंजीपतियों की तिजोंरिया भरना इसलिए भूमि अधिग्रहण बिल में संषोधन करके अग्रेजों के काले कानून की याद दिलाने वाला नया अध्यादेश लायी है जिससे किसानों की जमीन से उनका हक छीनकर पूंजीपतियों को सौंप दिया जाय। परन्तु राष्ट्रीय लोकदल उनके इस मंसूबे का कभी कामयाब नहीं होने देगा। वहीं दूसरी तरफ वर्तमान उ0प्र0 सरकार भी सूबे में भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने पर उतारू है प्रदेष की अब तक की यह सबसे बड़ी भ्रष्टतम सरकार है जिससे जनता को खून के आंसू रोने को मजबूर होना पड़ रहा है। सत्ता पार्टी के गुण्डे प्रदेष में जमकर उत्पात मचा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मनरेगा जैसी योजना को कृषि से जोड़ने से उसमें व्याप्त भ्रष्टाचार समाप्त किया जा सकता है

श्री चैधरी ने आगे कहा कि वर्तमान उ0प्र0 सरकार ने चुनाव पूर्व नौजवानों तथा किसानों के साथ वादा किया था कि किसानों को उनकी फसल के वाजिब मूल्य के साथ साथ गेहूं पर बोनस भी दिया जायेगा और नौजवानों को रोजगार मुहैया करायेंगे। परन्तु सपा सरकार ने किसानों तथा नौजवानों दोनो की उम्मीदों पर पानी फेर दिया। उ0प्र0 की सरकार ने जनता के साथ छल किया है। असामयिक बरसात और ओलावृष्टि से फसले बर्बाद हो गयी जिससे किसानों की सदमें में मौतों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है परन्तु उ0प्र0 की सरकार राहत के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति कर रही है और किसानों की अनदेखी किये जा रही है। उन्हांेने प्रदेष के किसानों से अपील करते हुये कहा कि इस दैवीय आपदा के समय किसान भाई अपना धैर्य बनाये रखें। राष्ट्रीय लोकदल आपके साथ है आपके हक की लड़ाई लड़ने को दृढ़ संकल्पित है। 

 

जनसभा में राष्ट्रीय लोकदल के प्रदेश  अध्यक्ष मुन्ना सिंह चैहान के साथ राष्ट्रीय प्रवक्ता डाॅ0 मसूद अहमद, राष्ट्रीय सचिव शिवकरन सिंह व अनिल दुबे भी मौजूद थे।

 

Uttar Pradesh, India