स्वाभाविक थी राम नरेश यादव के बेटे की मौत: पुलिस

स्वाभाविक थी राम नरेश यादव के बेटे की मौत: पुलिस

लखनऊ: लखनउ पुलिस ने मध्य प्रदेश के राज्यपाल रामनरेश यादव के बेटे शैलेश की कल हुई संदिग्ध परिस्थितियों में मौत को स्वाभाविक करार दिया है। लखनउ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक यशस्वी यादव ने कहा ‘शैलेश की स्वाभाविक मौत हुई है। शव की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है। बहरहाल विसरा सुरक्षित करके रख लिया गया है।

उन्होंने बताया कि 52 वर्षीय शैलेश के शव का कल शाम पोस्टमार्टम कराया गया था और उसकी रिपोर्ट देर रात में प्राप्त हुई थी। शैलेश के बड़े भाई कमलेश यादव ने भी अपने भाई की मौत को स्वाभाविक बताते हुए कहा था कि उन्हें नहीं लगता कि इस मौत के पीछे कोई और वजह है। उन्होंने कहा, ‘हमें नहीं लगता कि इस मामले की जांच की जरूरत है।’ गौरतलब है कि मध्यप्रदेश के राज्यपाल और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री रामनरेश यादव के पुत्र शैलेश कल लखनउ के माल एवेन्यू स्थित अपने पिता के सरकारी आवास में मृत पाये गये थे।

मीडिया के एक वर्ग तथा कांग्रेस के कुछ नेताओं ने मध्य प्रदेश के व्यापम घोटाले के आरोपी शैलेश की संदिग्ध हालात में मौत पर सवाल उठाये थे। शैलेश का नाम मध्य प्रदेश के व्यापम घोटाले में आया था। शैलेश पर तृतीय ग्रेड के शिक्षक पदों पर नियुक्ति के लिये 10 अभ्यथियों से धन लेने का आरोप था। इसकी आंच उनके पिता रामनरेश यादव तक भी पहुंची थी।

वर्ष 2011 में मध्य प्रदेश के राज्यपाल बनाये गये रामनरेश यादव का नाम भी व्यापम घोटाले मामले में शामिल किया गया था। उन्होंने इसके खिलाफ उच्च न्यायालय में याचिका दाखिल की थी। मामले के आरोपी वीरपाल यादव ने प्रकरण की जांच कर रही स्पेशल टास्क फोर्स को पूछताछ में बताया था कि उसने अपने मित्र विजयपाल को 10 अ5यर्थियों की सूची और तीन लाख रपये दिये थे जिन्हें उसने राजभवन में शैलेश के सुपुर्द किया था।

Lucknow, Uttar Pradesh, India