भारतीय टीम को फायदा पहुंचाने के लिए दिए गए फैसले: ICC अध्यक्ष

भारतीय टीम को फायदा पहुंचाने के लिए दिए गए फैसले: ICC अध्यक्ष

बांग्लादेश के मंत्री ने लगाया आरोप, अलीम दार का पुतला जलाया गया 

मेलबर्न। वर्ल्ड कप 2015 के क्वार्टर फाइनल मुकाबले में भारत से करारी हार बांग्लादेश के लोगों को पच नहीं रही है। बांग्लादेश के प्रशंसकों ने मैच के दौरान भारत को फायदा देने के लिए गलत फैसले देने का आरोप लगाया है। बांग्लादेश सरकार में मंत्री और आईसीसी के अध्यक्ष मुस्तफा कमाल ने भी कहाकि भारत को जिताने के लिए साजिश रची गई। इसके लिए उन्होंने अंपायर्स के फैसलों की ओर इशारा किया। कमाल ने कहाकि, भारतीय टीम को फायदा पहुंचाने के लिए 12 फैसले दिए गए और मैं इस मामले को आईसीसी के सामने उठाउंगा। 

वहीं हार के बाद बांग्लादेशी प्रशंसक सड़कों पर उतर आए और उन्होंने अंपायर्स विशेष रूप से पाकिस्तान के अलीम दार का पुतला जलाया और नोरबाजी की। यहां तक कि कप्तान मशरफी मुर्तजा ने भी अंपायर्स के फैसलों पर नाराजगी जाहिर की। मुर्तजा ने कहाकि, मैं अंपायर्स के फैसलों पर कुछ नहीं कहूंगा लेकिन जो कुछ हुआ वो सबने देखा। वहीं आईसीसी के प्रेसीडेंट मुस्तफा कमाल ने कहाकि, मेलबर्न क्रिकेट ग्राउण्ड की स्क्रीन पर भी "इंडिया जीतेगा" जैसे मैसेज चल रहे थे। स्क्रीन आईसीसी के अधिकार क्षेत्र में आती है। 

भारतीय पारी के 40वें ओवर में रोहित शर्मा को रूबेल हुसैन के ओवर में आउट नहीं दिया गया और गेंद को नोबॉल करार दिया गया था। इस गेंद पर रोहित कैच आउट हो गए थे। गेंद कमर की ऊंचाई की तरफ थी लेकिन रिप्ले में दिखा कि गेंद ज्यादा ऊंची नहीं थी। वहीं बांग्लादेश की पारी के 17वें ओवर में महमूदुल्लाह का शिखर धवन द्वारा लिए गए कैच पर भी सवाल उठाए गए। बांग्लादेशी प्रशंसकों ने कहाकि, धवन का पैर बाउंड्री को छू गया था।