राहुल की जासूसी मोदी सरकार का निजता पर सीधा हमला है:खत्री

राहुल की जासूसी मोदी सरकार का निजता पर सीधा हमला है:खत्री

लखनऊ: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की जासूसी, भूमि अधिग्रण बिल, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के खिलाफ कोयला मामले में समन, ओलावृष्टि से फसलों की बर्बादी, किसानों को मुआवज़ा आदि मुद्दों को लेकर प्रदेश कंाग्रेस अध्यक्ष डाॅ0 निर्मल खत्री के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय से गांधी प्रतिमा(जीपीओ पार्क) तक मार्च निकाला गया।

प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय से चलकर गांधी प्रतिमा पर पहुंचकर एकत्र हुए कांग्रेसजनों को सम्बोधित करते हुए प्रदेश कंाग्रेस अध्यक्ष डाॅ0 निर्मल खत्री ने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार द्वारा पूर्व प्रधानमंत्री डाॅ0 मनमोहन सिंह को साजिशन मुकदमें में फंसाने का प्रयास किया जा रहा है। जिसकी जितनी निन्दा की जाय कम है। पूरा देश जानता है कि डाॅ0 सिंह एक ईमानदार और स्वच्छ छवि के नेता हैं। यह डाॅ0 सिंह और कंाग्रेस पार्टी को बदनाम करने की साजिश रची जा रही है। उन्होने कहा कि श्री राहुल गांधी की जासूसी दिल्ली पुलिस द्वारा करायी गयी है। यह बहुत ही गंभीर मामला है। यह मोदी सरकार का निजता पर सीधा हमला और मौलिक अधिकारों के हनन का प्रयास है, नरेन्द्र मोदी जिस तरह से गुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुए इस तरह के घिनौने साजिशों को करते रहे उनकी आदत अब भी प्रधानमंत्री पद पर जाने के बाद भी बनी हुई है, जिसे कांग्रेस पार्टी कतई बर्दाश्त नहीं करेगी। इसी को लेकर आज प्रदेश कंाग्रेस कार्यसमिति की आपात बैठक बुलाई गयी थी जिसमें मार्च का निर्णय लिया गया, हम सभी ने इस मार्च को करके अपने नेताओं के प्रति प्रतिबद्धता दोहराते हुए यह संकल्प लिया है कि यदि इस तरह की साजिश आगे भी की गयी तो हम हर स्तर पर सड़कों पर उतरकर मुंहतोड़ जवाब देंगे। उन्होने कहा कि कांग्रेस पार्टी चुप नहीं बैठेगी जिलों-जिलों में भी इसके विरोध में आन्देालन करेगी। 

इससे पहलेउत्तर प्रदेश कंाग्रेस कार्यसमिति की आपात बैठक आज यहां प्रदेश कंाग्रेस मुख्यालय में प्रदेश कंाग्रेस अध्यक्ष डाॅ0 निर्मल खत्री, पूर्व सांसद की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई।बैठक में सर्वसम्मति से पूर्व प्रधानमंत्री डाॅ0 मनमोहन सिंह को फर्जी मुकदमें में फंसाये जाने की घोर निन्दा करते हुए प्रस्ताव पारित किया गया। इसके साथ ही कांग्रेस उपाध्यक्ष श्री राहुल गांधी की जासूसी कराये जाने के सम्बन्ध में कार्यसमिति द्वारा प्रस्ताव पारित किया गया। 

बैठक में ओलावृष्टि एवं अतिवृष्टि से फसलों के व्यापक पैमाने पर हुई क्षति की भरपाई के लिए किसानों को मुआवजा दिये जाने की मांग की गयी। 

बैठक में पारित प्रस्ताव में कहा गया है कि उत्तर प्रदेश कांग्रेस कार्यसमिति की यह बैठक भारत के पूर्व प्रधानमंत्री डाॅ0 मनमोहन सिंह के विरूद्ध सरकार द्वारा किये जा रहे षडयंत्र की भतर््सना करती है। सारा देश जनता है कि डाॅ0 सिंह एक विश्व प्रसिद्ध अर्थशास्त्री हैं। अपने 10 वर्ष के प्रधानमंत्रित्व काल में डाॅ0 सिंह के विरूद्ध देश या विदेश में उनकी ईमानदारी पर किसी ने भी उंगली उठाने की कोशिश नहीं की। किन्तु वर्तमान भारतीय जनता पार्टी सरकार डाॅ0 सिंह को अदालती सम्मन दिलवाकर कांग्रेस पार्टी को बदनाम एवं अपमानित करने की कोशिश कर रही है।

प्रस्ताव में आगे कहा गया है कि कांग्रेस पार्टी न्यायालय का पूरा सम्मान करती है किन्तु अभियोजन पक्ष सी0बी0आई0 ने इसी न्यायालय में दो बार अपनी रिपोर्ट दाखिल कर यह घोषित किया था कि डाॅ0 मनमोहन सिंह के विरूद्ध किसी तरह का कोई मामला नहीं बनता। इसके बावजूद फिर से दबाव के जरिये डाॅ0 मनमोहन सिंह केा न्यायालय का सम्मन भिजवाया गया है। कांग्रेस पार्टी ने इस तरह के षडयंत्रों का लगातार मुकाबला किया है और इसके नेता न केवल जनता के बीच पाक-साफ साबित हुए हैं वरन् उनकी देश के प्रति प्रतिबद्धता से देश सदैव आगे बढ़ा है।कार्यसमिति दृढ़ निश्चय के साथ मांग करती है कि लोकतंत्र में विपक्षी दल को शत्रु दल न समझकर उनके राष्ट्रीय नेताओं को अपमानित करने की साजिश को अविलम्ब बंद किया जाय। 

इसी के साथ ही पारित दूसरे प्रस्ताव में कहा गया है कि उत्तर प्रदेश कांग्रेस कार्यसमिति की यह बैठक कांग्रेस उपाध्यक्ष श्री राहुल गांधी  की भारत सरकार द्वारा करायी जाने वाली जासूसी की घोर निन्दा करती है।भारत एक लोकतांत्रिक देश है, देश में लोकशाही की जड़ें 65 वर्षों में बहुत गहराई तक गई हैं। भारत के संविधान में हर नागरिक को मौलिक अधिकार प्रदत्त किये गये हैं, जिसमें व्यक्तिगत स्वतंत्रता बहुत महत्वपूर्ण है। कांग्रेस पार्टी मानती है कि पुलिस द्वारा करायी जाने वाली जासूसी श्री राहुल गांधी के मौलिक अधिकारों तथा उनकी निजता पर हमला है।

प्रस्ताव में आगे गया है कि कार्यसमिति का यह दृढ़ विश्वास है कि विपक्षीदल के राष्ट्रीय नेता के खिलाफ इस तरह का आचरण फासीवादी ताकतों का षडयंत्र है, ताकि विपक्ष की धार को कमजोर किया जा सके।

गुजरात जैसे छोटे राज्य में भले ही पुलिसराज कायम किया गया, किन्तु इस महान और विशाल देश में कांग्रेस पार्टी किसी भी तरह के पुलिसराज कायम करने के प्रधानमंत्री के मंसूबों का डटकर मुकाबला करेगी।

Lucknow, Uttar Pradesh, India