यूएई को हराकर वेस्टइंडीज क़्वार्टर फाइनल में

यूएई को हराकर वेस्टइंडीज क़्वार्टर फाइनल में

नेपियर : कप्तान जैसन होल्डर की अगुवाई में गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन से वेस्टइंडीज ने आज यहां पूल बी के अपने आखिरी लीग मैच में संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) को 117 गेंद शेष रहते हुए छह विकेट से हराकर आईसीसी क्रिकेट विश्व कप के क़्वार्टर फाइनल में खेलने का हक़ हासिल कर लिया है ।

वेस्टइंडीज के लिए यह जरूरी था कि वह यूएई को कम से कम स्कोर पर आउट करे। होल्डर (27 रन देकर चार विकेट) और जेरोम टेलर (36 रन देकर तीन विकेट) की अच्छी गेंदबाजी से वह यूएई को 47.4 ओवर में 175 रन पर आउट करने में सफल रहा। यूएई के लिए निचले क्रम के बल्लेबाज नासिर अजीज (60) और अमजद जावेद (56) ने सातवें विकेट के लिये 107 रन जोड़कर टीम को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया।

क्रिस गेल की अनुपस्थिति में खेल रहे वेस्टइंडीज की शुरूआत भी अच्छी नहीं रही लेकिन जानसन चार्ल्स (55), जोनाथन कार्टर (नाबाद 50) और दिनेश रामदीन (नाबाद 33) की पारियों से उसने 176 रन का लक्ष्य 30.3 ओवर में चार विकेट खोकर हासिल कर दिया। वेस्टइंडीज की यह छह मैच में तीसरी जीत है जिससे उसका रन रेट पाकिस्तान से बेहतर हो गया और वह अभी ग्रुप बी में तीसरे स्थान पर है। वह क्वार्टर फाइनल में पहुंच पाएगा या नहीं यह पाकिस्तान और आयरलैंड के बीच एडिलेड में चल रहे मैच के परिणाम पर निर्भर करेगा।

यूएई पहले ही टूर्नामेंट से बाहर हो गया था। होल्डर ने फिर से आगे बढ़कर नेतृत्व किया और यूएई को पहले बल्लेबाजी का न्यौता देने के बाद उसके शीर्ष क्रम को झकझोर कर रख दिया। यूएई का स्कोर एक समय पांच विकेट पर 26 रन था। उसने स्वप्निल पाटिल के रूप में अपना छठा विकेट गंवाया जिससे स्कोर 14वें ओवर में छह विकेट पर 46 रन हो गया।

वेस्टइंडीज को कम से कम ओवरों में लक्ष्य हासिल करने की जरूरत थी लेकिन उसके बल्लेबाजों को भी मैकलीन पार्क की पिच से सामंजस्य बिठाने में दिक्कत हुई। गेल के चोटिल होने के कारण पारी की शुरूआत करने वाले चार्ल्स ने तो एक छोर से तेजी से रन बनाये लेकिन ड्वेन स्मिथ (15) फिर से नाकाम रहे जबकि उनका स्थान लेने के लिये आये सैमुअल्स (नौ) भी अधिक देर तक नहीं टिक पाये। इन दोनों को मंजुला गुरूगे (40 रन देकर दो विकेट) ने आउट किया। चार्ल्स ने अमजद जावेद (29 रन देकर दो विकेट) की गेंद पर कैच थमाने से पहले कार्टर के साथ तीसरे विकेट के लिये 56 रन की साझेदारी की।

चार्ल्स ने अपनी पारी में 40 गेंद खेली तथा नौ चौके दो छक्के लगाये। आंद्रे रसेल (सात) को उपरी क्रम में भेजा गया लेकिन जावेद ने उन्हें भी ज्यादा देर तक नहीं टिकने दिया। कार्टर और रामदीन ने इसके बाद टीम को कोई झटका नहीं लगने दिया। ये दोनों हालांकि अपेक्षित तेजी से रन नहीं बना पाये। इन दोनों ने अपनी 58 रन की अटूट साझेदारी के लिये 79 गेंदें खेली। कार्टर ने अपनी 58 गेंद की पारी में पांच चौके लगाये जबकि रामदीन ने 50 गेंद खेलकर दो चौके जड़े।