संसद से लेकर सडक तक लडी जायेगी किसान और मजदूरों की लडाई: जे. रमेश

संसद से लेकर सडक तक लडी जायेगी किसान और मजदूरों की लडाई: जे. रमेश

भटटा पारसौल: पूर्व ग्रामीण विकास मंत्री जयराम रमेश ने ग्राम बरसात में किसानों की एक पंचायत में कहा कि  संसद से लेकर सडक तक लडी जायेगी किसान और मजदूरों की लडाई।  भटटा पारसौल से संसद तक, युवा कांग्रेस के आह्वान पर किसान सत्याग्रह के नाम से की जा रही पद यात्रा दूसरे दिन कस्बा दनकौर से सुबह 12 बजे यात्रा प्रारम्भ होकर गांव नवादा, दादूपुर, बरसात, इमलिया, खानपुर आदि गांवों में होती हुई गाँव डाढा के लिए कूच करेगी। उत्तर प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता धीरेन्द्र सिंह ने गांव नवादा में किसानों से कहा कि ’’पैदल यात्रा का उददेश्य केन्द्र की मोदी सरकार द्वारा किसान व मजदूरों के खिलाफ बनायी जा रही नीतियों को उजागर करना है। जिस तरीके से भूमि अधिग्रहण कानून 2013 की मूल भावनाओं, किसान की सहमति, सामाजिक प्रभाव का आंकलन जैसे प्रमुख मुददों को शिथिल किया गया है इससे यह सिद्ध हो गया है कि मोदी सरकार में किसान और मजदूरों के बुरे दिन आने वाले है। जब तक भूमि अधिग्रहण कानून 2013 पर लाये गये अध्यादेश को वापिस नही लिया जाता तब तक यह संघर्ष जारी रहेगा।’’ आज की इस यात्रा में पूर्व ग्रामीण विकास मंत्री श्री जयराम रमेश जी के अलावा पश्चिमी उत्तर प्रदेश युवा के अध्यक्ष अमानातुल्ला, उत्तर प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता धीरेन्द्र सिंह, गौतमबुद्धनगर के जिलाध्यक्ष डा0 महेन्द्र नागर, यूथ कांग्रेस गौतमबुद्धनगर के जिलाध्यक्ष दीपक भाटी चोटीवाला प्रमुख रूप से शामिल रहे। अन्य लोगों में किसान मजूदर संगठन के जिलाध्यक्ष चौधरी  अमरपाल सिंह, जिला कांग्रेस के प्रवक्ता आलोक सिंह, चौरोली के किसान विनोद सिंह, प्रवीण सिंह, जितेन्द्र नागर, वीरेन्द्र डाढा, नरेन्द्र भाटी, दुष्यन्त नागर, हरेन्द्र भाटी, वीरेन्द्र गुडडू आदि लोग प्रमुख रूप से शमिल रहे। 

Uttar Pradesh, India