सच्चा मुसलमान कभी आतंकवादी नहीं हो सकता: आचार्य प्रमोद कृष्णम

सच्चा मुसलमान कभी आतंकवादी नहीं हो सकता: आचार्य प्रमोद कृष्णम

योगी और साध्वी जैसे लोगों के भड़काऊ भाषणों पर सरकार तुरंत पांबदी लगाये: तीस्ता

हुसुले इंसाफ कांफ्रेस में जमियतुल उलमा हिन्द ने देश और प्रदेश सरकार के सामने रखीं अपनी मांगें 

लखनऊ: सच्चा मुसलमान कभी आतंकवादी नहीं हो सकता यह गांधी का देश है इसको गोड़से का देश न बनाओ। यह बात लखनऊ जमियतुल उलमा हिन्द के एक आयोजन में आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कही । ‘‘हुसूले  इंसाफ‘‘ कांफ्रेस के माध्यम से जमियत उलमा हिन्द ने अपनी मांगो को प्रदेश तथा देश की सरकार के सामने रखा और कहा कि सरकार मुसलमानों से भेदभाव करना बंद करें । कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रदेश अध्यक्ष हयातुल्लाह क़ासमी ने की व मुख्य अतिथि के रुप में जमियतउलमा-ए-हिन्द के राष्ट्रीय महासचिव सै0 महमूद मदनी  ने की। 

आचार्य प्रमोद कृष्णम ने अपने भाषण में बोलते हुए कहा कि सच्चा मुसलमान कभी आतंकवादी नहीं हो सकता यह गांधी का देश है इसको गोड़से का देश न बनाओ। साधुओं पर पाबंदी न लागाओं पांबंदी लगाना है तो विश्व हिन्दू परिषद और बजंरंगं दल पर लगाओं इसके साथ साथ तोगडि़या जैसे लोगों पर भी  पाबंदी लगाओं  जिससे समाज में भाई चारे को बढ़ावा मिले देश में नफरत के कारोबार को बंद करना ही पड़ेगा । 

स्वामी अग्निवेश ने अपने भाषण में कहा कि इंसाफ के लिए सबको साथ में चलना होगा यह किसी एक का काम नहीं है। इसके साथ साथ स्वामी ने कहा कि सरकार को शराब पर पांबदी लगाना चाहिए क्योंकि सरकार 100रु0 कमाने के लिए सरकार को 124 रु0 खर्च करना पड़ता है , लेकिन सरकार शराब माफियाओं से भारी भरकम चंदा लेने के लिए ही शराब पर पांबदी नही लगाती है  । 

प्रसिद्ध समाजसेवी व गरीबों की लड़ाई लडने वाली तीस्ता सीतलवाड ने कहा कि कोई भी दंगा अपने आप नहीं भड़कता  उसको भड़काने में भड़काऊ भाषणों  से फैलता है सरकार को चाहिए कि संप्रदायिक दंगा विरोधी कानून को तुरंत बनाये । सरकारों को चाहिए कि योगी आदित्यनाथ और साध्वी जैसे लोगों के भड़काऊ भाषणों पर तुरंत पांबदी लगाये । केन्द्र व प्रदेश सरकार रंगनाथ मिश्रा व सच्चर कमेटी द्वारा दिये गये सुझावों पर अमल करे तभी समाज में भाई चारे को बढ़ावा मिलेगा । इस देश को धर्म व जाति के आधार पर न बांटा जाये यह देश सबका है ।  कार्यक्रम के अन्त में बोलते हुए जमियतुल उलमा-ए-हिन्द के राष्ट्रीय महासचिव सै0 महमूद असद मदनी  ने कहा  कि क़ौमी एकता सिर्फ मुसलमानों की ज़रुरत नही है यह पूरे देश की ज़रुरत है । मुसलमानों को आरक्षण नहीं बल्कि अपना हक़ चाहिए और कमज़ोर तबकों को उनका हक़ मिलना चाहिए  मौलाना मदनी ने प्रदेश सरकार पर इल्जाम लगाते हुए कहा कि प्रदेश सरकार मुसलमानों से किये अपने वादो को पूरा नहीं कर रही  इसलिए हम प्रदेश सरकार से मांग करते हैं कि वह तुरंत अपने वादों को पूरा करे इसके साथ-साथ  मदनी ने यह भी मंाग की है कि भड़काऊ भाषण देने वालो पर तुरंत पांबदी लगाये, चाहें वह किसी भी धर्म को मानने वाले हो । मौलाना मदनी ने आगे कहा कि बडे शर्म की बात है कि सरकार आज तक मुज्फफर नगर के गुनाहगारों को पकड़ नहीं पायी र्ह हम मांग करते है कि सरकार उनको तुरतं पकड़ कर कानूनी कार्यवाही करे । 

कार्यक्रम में अन्य वक्ताओं में मौलाना मतीनुल हक़ कासमी , कारी शौकत अली , मौलाना कलीमुल्लाह कासमी, मौलाना अब्दुल मुईन कासमी प्रोफेसर सै0 नौमान , मौलाना याहिया नौमानी , संदीप पांडे , ग्रंथी ज्ञान लखविंदर सिंह आदि  ने अपने विचार प्रकट किये ।

Lucknow, Uttar Pradesh, India