UAE पर जीत से दक्षिण अफ्रीका क्वार्टर फाइनल में पहुंचा

UAE पर जीत से दक्षिण अफ्रीका क्वार्टर फाइनल में पहुंचा

वेलिंगटन : बल्लेबाजी में अपने जौहर दिखाने वाले एबी डिविलियर्स ने आज यहां आलराउंड प्रदर्शन किया जिससे दक्षिण अफ्रीका ने संयुक्त अरब अमीरात को 146 रन से करारी शिकस्त देकर आईसीसी क्रिकेट विश्व कप के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने की औपचारिकता पूरी की। डिविलियर्स ने फिर से साबित किया कि वह दक्षिण अफ्रीका के लिये कितने महत्वपूर्ण हैं। उन्होंने 99 रन की शानदार पारी खेली और बाद में अपनी मध्यम गति की गेंदबाजी से दो विकेट लिये। डिविलियर्स के अलावा फरहान बेहारडीन ने अंतिम क्षणों में 31 गेंदों पर नाबाद 64 रन बनाये जिससे पहले बल्लेबाजी का न्यौता पाने वाला दक्षिण अफ्रीका धीमी शुरूआत से उबरकर छह विकेट पर 341 रन बनाने में सफल रहा।

टूर्नामेंट में अब तक अपने सभी मैच गंवाने वाले यूएई ने शुरू से ही लक्ष्य तक पहुंचने की कोशिश नहीं की। उसका एकमात्र लक्ष्य क्रीज पर अधिक से अधिक समय बिताना रहा। फलहद अलशामी गेंदबाजी करने के दौरान चोटिल हो गये थे और वह बल्लेबाजी के लिये नहीं उतर पाये। इस तरह से यूएई की टीम 47.3 ओवर में 195 रन पर आउट हो गयी। स्वप्निल पाटिल ने सर्वाधिक नाबाद 57 रन बनाये लेकिन इसके लिये उन्होंने 100 गेंद खेली। भारत और पाकिस्तान से लीग चरण के मैच हारने वाले दक्षिण अफ्रीका ने इस तरह से पूल बी में अपने अभियान का सकारात्मक अंत किया। उसके छह मैचों में आठ अंक रहे और वह अभी पूल बी में भारत के बाद दूसरे स्थान पर है। यूएई की यह लगातार पांचवीं हार है। उसे अपने आखिरी लीग मैच में रविवार को वेस्टइंडीज से भिड़ना है।

यूएई ने जिस तरह से बल्लेबाजी में बेहद रक्षात्मक रवैया अपनाया उससे लग गया था कि उसने पहले ही हार मान ली है। उसके चोटी के तीनों बल्लेबाज सतर्कता बरतने के बावजूद देर तक नहीं टिक पाये। यूएई ने 13वें ओवर तक 45 रन पर तीन विकेट गंवा दिये थे। मोर्ने मोर्कल ने उसके शीर्ष क्रम को झकझोरा। पाटिल ने यहीं पर क्रीज पर कदम रखा और फिर आखिर तक एक छोर संभाले रखा। उन्होंने अपनी पारी में पांच चौके लगाये और इस बीच शैमन अनवर के साथ चौथे विकेट के लिये 63 रन की साझेदारी की। निचले क्रम में केवल मोहम्मद नवीद ही दोहरे अंक में पहुंचे। डेल स्टेन पर लगाया गया उनका छक्का दर्शनीय था। डिविलियर्स ने यूएई के बल्लेबाजों की मंशा को भांपकर बीच में स्वयं गेंद संभाली और तीन ओवर में 15 रन देकर दो विकेट लिये जो उनका गेंदबाजी में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। वर्नोन फिलैंडर ने भी 34 रन देकर दो विकेट लिये।

डिविलियर्स ने डेविड मिलर के साथ चौथे विकेट के लिये 108 रन जोड़े जिससे दक्षिण अफ्रीका तीन विकेट पर 96 रन के स्कोर से उबरने में सफल रहा। डिविलियर्स जब शतक से केवल एक रन दूर थे तब अमजद जावेद की गेंद पर थर्ड मैन पर खड़े कामरान शहजाद को कैच दे बैठे। डिविलियर्स विश्व कप में 99 रन पर आउट होने वाले केवल तीसरे बल्लेबाज हैं। उनसे पहले एडम गिलक्रिस्ट 2003 में श्रीलंका के खिलाफ और जेपी डुमिनी 2011 में आयरलैंड के खिलाफ एक रन से शतक से चूक गये थे। डिविलियर्स के आउट होने के बाद डुमिनी भी पवेलियन लौटे लेकिन अब तक रन बनाने के लिये जूझ रहे बेहारडीन ने डेथ ओवरों में तेजी से रन जुटाकर टीम को मजबूत स्कोर तक पहुंचाया। वर्नोन फिलैंडर दस रन बनाकर नाबाद रहे।