किसानों की उपेक्षा को लेकर चेतावनी कांग्रेस की सपा सरकार को चेतावनी

किसानों की उपेक्षा को लेकर चेतावनी कांग्रेस की सपा सरकार को चेतावनी

लखनऊ: उ0प्र0 कांग्रेस लगातार उत्तर प्रदेश की समाजवादी पार्टी सरकार का ध्यान इस ओर आकर्षित करती रही है कि प्रदेश की जनता और किसानों की स्थिति अत्यधिक चिंताजनक है। प्रदेश सरकार न तो किसानों को उर्वरक उपलब्ध करा पायी है न ही उनके गन्ने के मूल्य का बकाया भुगतान कराने में समर्थ रही है, आम जनता असुरक्षित और भयभीत है। केन्द्र एवं प्रदेश सरकार द्वारा की जा रही किसानों की अनदेखी के चलते किसान आज इस हालात पर पहुंच गये हैं कि वह आत्महत्या करने पर मजबूर हो गये हैं।

किसानों को उनके बकाये गन्ने का भुगतान कराये जाने को लेकर मा0 उच्च न्यायालय, इलाहाबाद द्वारा भी प्रदेश सरकार को यह स्पष्ट आदेश दिया गया था कि वह तुरन्त गन्ना किसानों को उनके बकाये का भुगतान कराये। किन्तु न तो केन्द्र सरकार और न ही उ0प्र0 सरकार ने इस ओर कोई ध्यान दिया।  

उ0प्र0 कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डाॅ0 निर्मल खत्री ने प्रदेश सरकार को बार-बार प्रदेश की बिगड़ती हुई कानून व्यवस्था एवं किसानों की उपेक्षा को लेकर चेतावनी दी और कहा कि यदि प्रदेश की कानून व्यवस्था, महिलाओं के उत्पीड़न की बढ़ती घटनाएं, भ्रष्टाचार और खनन माफियाओं को संरक्षण, बिजली एवं किसानों की स्थिति में सकारात्मक परिवर्तन न हुआ तो उ0प्र0 कांग्रेस सड़क पर उतरने के लिए बाध्य हो जायेगी। लेकिन सत्ता के नशे में चूर इस विध्वंशकारी सपा सरकार के कान पर जूं भी नहीं रेंगी, जिसके कारण प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डाॅ0 निर्मल खत्री के आवाहन पर कल दिनांक  12मार्च, 2015 को सम्पूर्ण प्रदेश भर में रेल रोकने एवं चक्का जाम करने का निर्णय लिया हैं, जिससे कि इस गूंगी बहरी सरकार का ध्यान प्रदेश की पीडि़त जनता की ओर आकर्षित  हो सके तथा वह जनता का उत्पीड़न करना बंद करें। 

प्रदेश की जनता न केवल उ0प्र0 सरकार की उपेक्षा से दुःखी है बल्कि केन्द्र सरकार की किसानों एवं गरीबों की विरोधी नीतियों से भी अत्यधिक पीडि़त है। पूंजीपतियों को प्रसन्न करने के लिए किसान एवं मजदूर विरोधी भूमि अधिग्रहण कानून में किये जा रहे संशोधन, कश्मीर के घटनाक्रम, अंतर्राष्ट्रीय बाजार में पेट्रोलियम पदार्थों की कीमत अपने निम्न स्तर पर है परन्तु उसका कोई भी लाभ प्रदेश की जनता को प्राप्त नहीं हो रहा है तथा बढ़ती हुई मंहगाई से जनता की कमर टूट गयी है। लोकसभा चुनाव में किये गये प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के झूठे वादे जैसे कि काले धन की सौ दिन में वापसी तथा हर व्यक्ति को 15 लाख रूपये खाते में पहुंचाने, मंहगाई पर सौ दिनेां में नियंत्रण, किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य देने का वादा आदि न पूरे करने के विरोध में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने 12 मार्च को रेल रोको-हाईवे जाम करो  आन्दोलन का ऐलान किया है। जिससे कि केन्द्र की दमनकारी नीतियों से आम जनता को अवगत कराया जा सके और उन्हें उनका हक दिलाया जा सके। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India