मुख्यमंत्री ने परमहंस स्वामी अड़गड़ानन्द से आशीर्वाद प्राप्त किया

मुख्यमंत्री ने परमहंस स्वामी अड़गड़ानन्द से आशीर्वाद प्राप्त किया

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज श्री परमहंस स्वामी अड़गड़ानन्द जी से उनके मिजऱ्ापुर स्थित सक्तेशगढ़ आश्रम में भेंट कर उनसे आशीर्वाद लिया तथा सत्संग स्थल पर उपस्थित जनसमुदाय को सम्बोधित किया। 

अपने सम्बोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे देश में अनेक धर्म-जाति के लोग एक जुट होकर रहते हैं। जरूरत सिर्फ इस बात की है कि सभी एक साथ मिलकर भारत को आगे बढ़ाएं। उन्होंने कहा कि अमेरिका, चीन, जापान, सहित अनेक देश हम से आगे काफी बढ़ गए हैं। आज आवश्यकता है भारत को आगे बढ़ाने की। 

श्री यादव ने कहा कि आदिवासी तथा पिछड़ा क्षेत्र होने के कारण यहां पर गरीबी अधिक है जिसे दूर करना प्रदेश सरकार का मुख्य उद्देश्य है। इस दिशा में समाजवादी पेंशन योजना एक महत्वपूर्ण कड़ी है। महिलाओं का परिवार में सम्मान बढ़ाने के लिए समाजवादी पेंशन योजना से ज्यादा से ज्यादा महिलाओं को जोड़ा जा रहा है। समाजवादी पेंशन योजना में धन की कमी नहीं होने दी जाएगी। आगामी वित्तीय वर्ष से योजना के निर्धारित लक्ष्य में 05 लाख की और बढ़ोत्तरी की गई है। उन्होंने कहा कि जो लोग इस योजना के तहत छूट गए हैं, उनसे भी समाजवादी पेंशन योजना का फार्म भरवाया जाए। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश को विकास के रास्ते पर आगे बढ़ा रही है। उन्होंने कहा कि कम समय में प्रदेश सरकार के द्वारा जितना काम किया गया, उतना कार्य अब तक किसी भी सरकार द्वारा नहीं किया गया है। उन्होंने कहा कि सक्तेशगढ़ में बिजली की समस्या के बारे में जानकारी दी गई है। इस समस्या के समाधान के लिए जल्द ही यहां पर एक बड़ा विद्युत उपकेन्द्र का निर्माण कराया जाएगा।

     इस अवसर पर श्री यादव ने पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि मिजऱ्ापुर के गंगा नदी पर भटौली पुल तथा चुनार के बालू घाट के पुल को वर्ष 2016 तक पूर्ण करा लिया जाएगा। इसके निर्माण में किसी प्रकार से धन की कमी नहीं आएगी। उन्होंने बताया कि वाराणसी में आज लोहिया ग्रामीण बस सेवा का शुभारम्भ कर दिया गया है। शीघ्र ही यह सेवा पूरे प्रदेश में उपलब्ध हो जाएगी। उन्होंने कहा कि यदि किसी किसान की जमीन का अधिग्रहण किया जाता है तो उसे उसकी जमीन के सर्किल रेट का चार गुना मुआवजा दिया जायेगा। इस असवर पर स्वामी जी की ओर से मुख्यमंत्री को यथार्थगीता पुस्तक भी भेंट की गई। 

Uttar Pradesh, India