ITR-GST return भरने की तारीख़ बढ़ी, किसी भी बैंक के एटीएम से पैसा निकालना फ्री

ITR-GST return भरने की तारीख़ बढ़ी, किसी भी बैंक के एटीएम से पैसा निकालना फ्री

नई दिल्ली: देश भर में कोरोना वायरस के संक्रमण के मामलों के कारण और मंद हुई अर्थव्यस्था के बीच वित्त मंत्री निर्मलाा सीतारमण ने कहा कि सरकार की नजर परिस्थिति पर बनी हुई है। निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि सरकार जल्द ही इकॉनॉमिक पैकेज का ऐलान करने के करीब है।

निर्मला सीतारमण ने साथ ही बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि वित्तीय साल 18-19 के आईटीआर दाखिल करने की तारीख को बढ़ाने का फैसला किया गया है। निर्मला सीतारमण ने कहा कि अब आईटीआर दाखिल करने की अंतिम तारीख 30 जून होगी।

रिटर्न भरने में देरी पर 12 की जगह 9 प्रतिशत चार्ज लगेगा। साथ ही मार्च, अप्रैल, मई का जीएसटी रिटर्न भरने की तारीख भी 30 जून तक बढाई गई। आधार-पैन लिंक करने की तारीखों को भी बढ़ाया गया है। अब इसे 1 अप्रैल से बढ़ाकर 30 जून कर दिया गया है। वित्त मंत्री ने ये भी कहा कि कस्टम क्लियरेंस अब एक जरूरी सर्विस है, इसलिए 30 जून, 2020 तक यह 24 घंटे काम करेगी।

  • अगले तीन महीने के लिए डेबिट कार्ड से किसी भी बैंक के एटीएम से पैसा निकालना फ्री हो गया है।

-मिनिमम बैलेंस रिक्वायरमेंट फीस माफ कर दी गई है। मतलब MAB जरूरी नहीं रह गया है।

-नई कंपनियों को डिक्लेरेशन के लिए 6 महीने का और वक्त मिला है।

  • कंपनियों को जबरन इन्सॉल्वेंसी में जाने से बचाया जाएगा

-सबका विश्वास स्कीम काफी सफल रहा। इस स्कीम के तहत 30 जून तक पेमेंट किया जा सकता है। पहले इस स्कीम की आखिरी तारीख 31 मार्च थी। उसके बाद पेमेंट करने पर कोई पेनाल्टी नहीं लगेगी।

  • कॉर्पोरेट को राहत देते हुए यह कहा गया कि बोर्ड बैठक 60 दिनों के लिए टाला जा सकता है। यह राहत फिलहाल अगली दो तिमाही के लिए है।

-5 करोड़ तक टर्नओवर वाली कंपनियों के लिए जीएसटी रिटर्न फाइल करने में देरी पर फिलहाल जुर्माना नहीं।

-टीडीएस पर ब्याज 18 पर्सेंट से घटाकर 9 पर्सेंट किया गया।

-30 जून 2020 तक 24 घंटे कस्टम क्लियरेंस की सुविधा मिलती रहेगी।

  • मार्च, अप्रैल, मई के लिए जीएसटी रिटर्न भरने की तारीख बढ़ाकर 30 जून कर दी गई है।

  • विवाद से विश्वास स्कीम को भी अब 30 जून कर दिया गया है। 31 मार्च के बाद 30 जून तक कोई अतिरिक्त चार्ज नहीं लगेगा।

  • आधार पैन लिंक करने की आखिरी तारीख बढ़ाकर 30 जून 2020 तक कर दी गई है।

-वित्त वर्ष 2018-19 के लिए टैक्स रिटर्न फाइल करने की आखिरी तारीख बढ़ाकर 30 जून कर दिया गया है।