CAA-NRC का वानखेड़े में विरोध

CAA-NRC का वानखेड़े में विरोध

मुंबई: भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के बीच मुंबई में पहले वनडे के दौरान भी संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) और एनआरसी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया गया। मंगलवार को वानखेड़े स्‍टेडियम में मैच के दौरान पवेलियन में टीशर्ट पहनकर दर्शकों ने यह विरोध किया। वहीं, विरोध-प्रदर्शन के चलते काले रंग के कपड़ों को बैन कर दिया गया।

स्‍टेडियम के एक स्‍टैंड में कुछ दर्शकों ने अपनी टी शर्ट पर लिखे अक्षरों को मिलाकर सीएए, एनपीआर और एनआरसी का विरोध किया। ये दर्शक सफेद टी शर्ट पहने हुए थे और उन्‍होंने एक कतार बनाकर अपना विरोध जताया।

वहीं, दर्शकों ने आरोप लगाया कि गार्डों ने उन्हें काले कपड़े पहनने की अनुमति नहीं दी। पत्रकार राहुल देसाई ने ट्वीट किया, "मैं आज वानखेड़े स्टेडियम में हूं। काले रंग पर प्रतिबंध लगा दिया गया है चाहे वह टी शर्ट हो,कैप या कुछ भी क्योंकि यह" विरोध का प्रतीक है। कई दर्शकों को कथित तौर पर टी शर्ट और कैप बदलने के लिए मजबूर किया गया और उन्हें गेट पर जब्त कर लिया गया।

नागरिकता कानून और एनआरसी के खिलाफ देश में काफी समय से विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। बीते कुछ दिनों में यूनिवर्सिटी और कॉलेजों के कई छात्र इन मुद्दों पर सड़क पर उतर चुके हैं। इन प्रदर्शनों के दौरान दिल्ली समेत देश में कई लोगों की जान भी जा चुकी है। प्रर्दशनकारी सीएए को वापस लेने की मांग कर रहे हैं। बता दें कि सीएए 10 जनवरी को अधिसूचित किया गया था। यह कानून पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से 31 दिसंबर 2014 तक उत्पीड़ित होकर भारत में आए गैर-मुस्लिम शरणार्थियों को भारतीय नागरिकता प्रदान करता है।

India