कन्हैया कुमार बने प्रभावशाली, फोर्ब्स की सूची में शामिल

कन्हैया कुमार बने प्रभावशाली, फोर्ब्स की सूची में शामिल

नई दिल्ली: विश्व की प्रतिष्ठित मैगजीन फोर्ब्स ने साल 2020 के दुनिया के टॉप 20 शक्तिशाली लोगों में जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार और जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर का नाम शामिल किया है। फोर्ब्स ने इन्हें इस लिस्ट में शामिल करके आगामी दशक के निर्णायक चेहरे के रूप में स्वीकार किया है।

मैगजीन का यह मानना है कि कन्हैया कुमार और प्रशांत किशोर जैसे युवा नेता आगामी दशक में भारत की राजनीति में अहम भूमिका निभा सकते हैं। आपको बता दें कि कन्हैया कुमार साल 2016 में राजद्रोह के आरोपों की वजह से जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में छात्र राजनीति का चेहरा बने थे। उन्होंने बेगूसराय निर्वाचन क्षेत्र से 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान अपनी पहली चुनावी लड़ाई लड़ी थी।

कन्हैया कुमार लोकसभा चुनाव में भले ही हार गए थे लेकिन उन्होंने 22.03 प्रतिशत वोट हासिल किए थे। फोर्ब्स इंडिया का कहना है कि कन्हैया कुमार एक शक्तिशाली संचालक हैं, जो कि भविष्य में भारतीय राजनीति में अपनी बड़ी भूमिका निभाएंगे।

बात करें अगर प्रशांत किशोर की तो वे साल 2011 से एक राजनीतिक रणनीतिकार रहे हैं, जिन्होंने भाजपा को गुजरात राज्य चुनाव जिताने में मदद की थी। वर्तमान में प्रशांत किशोर जनता दल यूनाइटेड के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हैं साथ ही वे चुनावी रणनीतिकार भी हैं।

फोर्ब्स की इस नई लिस्ट में कन्हैया कुमार और प्रशांत किशोर के अलावा श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे, सऊदी अरब के युवराज मोहम्मद बिन सलमान, न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न, पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग, फिनलैंड की नई प्रधानमंत्री सना मारिन और ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के नाम भी शामिल हैं।