पुलिस का लोगो लगी गाड़ी में लड़की को अगवा कर गैंगरेप

पुलिस का लोगो लगी गाड़ी में लड़की को अगवा कर गैंगरेप

मिर्ज़ापुर: पुलिस का लोगो लगी गाड़ी में अगवा कर गैंगरेप करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पुलिस ने छात्रा के पिता की तहरीर पर पूर्व जेलर के बेटे और सीआरपीएफ जवान समेत चार लोगों को गिरफ्तार कर गाड़ी भी जब्त कर ली है। छात्रा के नाबालिग होने के कारण चारों पर पास्को एक्ट के तहत भी कार्रवाई हुई है।

वाराणसी निवासी रिटायर्ड जेलर बृजलाल की बेटी की शादी हलिया थाने के एक गांव में हुई है। बृजलाल का बेटा जय प्रकाश मौर्य बहन के यहां आता-जाता था। इससे आसपास के लोगों से भी जान पहचान हो गई थी। उसकी दोस्ती गांव की ही नाबालिग हाई स्कूल की छात्रा से भी हो गई। दोनों फोन पर काफी बातें करते थे।

सोमवार को जयप्रकाश ने छात्रा को फोन करके गांव में ही एक जगह पर बुलाया। छात्रा जब वहां पहुंची तो उसके साथ युवक के तीन अन्य दोस्त भी थे। चारों अपनी गाड़ी से घूमाने के बहाने छात्रा को लेकर कहीं चले गए। एक जगह पर छात्रा से चारों ने रेप किया। विरोध करने पर डराया धमकाया। किसी से कुछ नहीं बताने की नसीहत देते हुए गांव में छोड़ने लौट रहे थे।

इसी दौरान भटवारी गांव के पास पुलिस चेकिंग में गाड़ी रोकी गई तो छात्रा फूट पड़ी। मौके पर मौजूद दरोगा चन्द्र शेखर यादव चारों को गाड़ी समेत थाने ले आये। छात्रा के घर पर सूचना देकर उसके पिता को भी बुला लिया गया। पिता की तहरीर पर चारों को गिरफ्तार कर लिया गया।

जयप्रकाश इन दिनों जिगना थाना क्षेत्र के छोटी सिहावल गांव में ही रहता है। इसके अलावा उसके अन्य तीन दोस्तों में महेंद्र कुमार यादव सीआरपीएफ सुल्तानपुर में तैनात है। तीसरा युवक गणेश प्रसाद लम्बी पट्टी और लव कुश कुमार पाल यादवपुर जिगना थाना क्षेत्र का निवासी है।

छात्रा को मेडिकल के लिए भेज दिया। प्रभारी निरीक्षक देवीवर शुक्ल ने बताया की चारों के खिलाफ पास्को एक्ट, सामूहिक दुष्कर्म सहित विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है।

Uttar Pradesh, India