भाजपा को राहुल के विदेशी दौरों से परेशानी

भाजपा को राहुल के विदेशी दौरों से परेशानी

नई दिल्ली: बीजेपी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने एक प्रेस कांफ्रेंस में कांग्रेस नेता राहुल गांधी की विदेश यात्राओं को सवाल उठाए हैं. उनका आरोप है कि राहुल गांधी एक जनप्रतिनिधि हैं. उन्हें अपनी यात्राओं के बारे में संसद को बताना चाहिए. अमेठी से ज्यादा वो विदेश के दौरे कर रहे हैं. विदेश दौरा खर्चीला होता है, ऐसे में उनकी विदेश यात्रा का खर्च कहां से आ रहा है.

बीजेपी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने प्रेस कांफ्रेंस में सवाल उठाते हुए कहा कि संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने चिठ्ठी लिख कर सभी सांसदों को विदेश दौरे के बारे में संसद को जानकारी देने की बात कही थी. लेकिन क्या कारण हैं कि राहुल गांधी अपने विदेश दौरों के बारे में जानकारी नहीं दे रहे हैं. बीते 5 बरस में उन्होंने 16 बार विदेश यात्राएं की हैं. इसमें से 9 विदेश यात्राओं को गुप्त रखा गया है. यहां तक की उस देश के बारे में भी जानकारी नहीं दी गई है जहां वो गए थे. वो जन प्रतिनिधि हैं, उन्हें इसकी जानकारी संसद को देनी चाहिए. हम विदेश दौरे को लेकर कोई निजी जानकारी नहीं मांग रहे हैं कि क्या खाया और किससे मिले.

प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने राहुल गांधी के योग करने वाली बात पर भी सवाल दागते हुए कहा कि पूरी दुनिया मेडिटेशन करने भारत आती है. लेकिन राहुल गांधी विदेश में जाकर मेडिटेशन करते हैं. क्या आप भारत की छवि को विदेश में खराब करने के लिए ऐसा कर रहे हैं. उन्होंने अमेठी से ज्यादा विदेशी दौरे में रुचि दिखाई इसलिए अमेठी की जनता ने उन्हें नकार दिया है. उन्होंने कहा कि आखिर ऐसा क्या कारण है कि लोकसभा सचिवालय को राहुल गांधी ने यात्रा की जानकारी नहीं दी. जबकि विदेश यात्रा खर्चीला होती है. ऐसे में राहुल गांधी के विदेश यात्रा पर खर्च कहां से आता है.