हरियाणा चुनाव: सिरसा में मोदी ने कश्मीर, करतारपुर कॉरिडोर और नदियों के पानी का मुद्दा उठाया

हरियाणा चुनाव: सिरसा में मोदी ने कश्मीर, करतारपुर कॉरिडोर और नदियों के पानी का मुद्दा उठाया

सिरसा: हरियाणा और महाराष्ट्र चुनाव प्रचार का आज आखिरी दिन है। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हरियाणा के रेवाड़ी और सिरसा में रैलियों को संबोधित किया। सिरसा रैली में कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कश्मीर, करतारपुर कॉरिडोर और नदियों के पानी का मुद्दा उठाया। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस ने एक-दो परिवारों के भरोसे कश्‍मीर को छोड़ दिया। उन्होंने कहा कि दिल्‍ली की गद्दी के लिए कश्‍मीर को बर्बाद और तबाह नहीं किया जाएगा। अब वहां तारीख दुश्‍मन देशों में बैठे लोग तय नहीं कर सकते। अब कश्‍मीर की तकदीर भारत और कश्‍मीर के लोग तय करेंगे दूसरे देश तय नहीं करेंगे।

मोदी ने कहा कि कश्मीर में आम लोगों के साथ अन्याय हुआ है। मोदी ने कहा कि कश्मीर में निर्दोष लोग मरते रहे और हरियाणा सहित दूसरे राज्यों के जवान वहां शहीद होते रहे। 70 साल हो गए बाबा साहब अंबेडकर का संविधान वहां लागू नहीं हो पाया।

मोदी ने कहा कि हमारी नदियों से हमारे हिस्से का पानी बहकर पाकिस्तान जाता रहा और सरकारें देखती रहीं। जिस पानी पर आपका हक है वह पानी पाकिस्तान जाने देना चाहिए क्या? यहां के खेत सूखे रहें और पाकिस्तान हरा-भरा रहे, यह कैसे हो सकता है? उन्‍होंने कहा कि आपके हक का एक बूंद पानी पाकिस्तान नहीं जाने दूंगा। सिरसा पर तो कभी सरस्वती नदी की भी कृपा रही है। सरस्वती नदी हरियाणा से बहा करती थी। मुझे खुशी है कि मां सरस्वती नदी को पुनर्जीवन करने का संकल्प मनोहर लाल की सरकार ने दिया है। यह दिखाता है कि हमारी धरोहर और हमारे किसानों की पानी की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए भाजपा सरकार कितने बड़े स्तर पर काम कर रही है।

पीएम मोदी ने अपना संबोधन पंजाबी और हरियाणवी में शुरू किया। उन्‍होंने भाषण की शुरूआत में गुरु श्री नानकदेव के 550वें प्रकाश पर्व का उल्‍लेख किया। उन्‍होंने कहा कि करतारपुर कॉरिडोर का निर्माण पूरा हो गया है। मोदी ने विभाजन के समय करतारपुर के पाकिस्‍तान में जाने को लेकर कांग्रेस पर‍ निशाना साधा।

उन्‍होंने कहा कि 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने के संकल्प को सिद्ध करने के लिए हम निकले हैं। एक साथ कई स्तरों पर काम किया जा रहा है। सिरसा के हमारे किसान परिवारों के बैंक खाते में करोड़ों रुपये जमा हो चुके हैं। यहां के अनेक किसान परिवारों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से करोड़ों रुपए की मदद मिल चुकी है।

इससे पहले रेवाड़ी में रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि मैं वादा निभाता हूं जो हमें डराते थे वह आज डरे हुए नजर आते हैं। आज भारत की सेना सशक्त हुई है। सेना को ढंग के कपड़े तक नहीं मिलते थे। हमने सत्ता में आने के बाद सेनाओं के सशक्तीकरण का बड़ा अभियान चलाया। आज आधुनिक पनडुब्बियां और रफाल जैसा आधुनिक लड़ाकू विमान हमारी सेना का हिस्सा है।

उन्होंने कहा कि वन रैंक वन पेंशन की बात इसी धरती से पहली बार कही थी। 40 साल से जिसको पूरा करने की मांग उठ रही थी। उसका जिम्मा मुझे ही मिला। हमने नेशनल वॉर मेमोरियल बनवाया। इसकी शपथ रेवाड़ी की धरती पर ली गई थी। दुनिया में ऐसा कोई देश नहीं जहां स्मारक नहीं। पुलिस के भी 35000 जवान शहीद हुए। सेना की तरह हमने पुलिस का भी स्मारक बनवाया।