हांगकांग में पुलिस-प्रदर्शनकारियों में ज़ोरदार झड़प

हांगकांग में पुलिस-प्रदर्शनकारियों में ज़ोरदार झड़प

नई दिल्ली: हांगकांग के एक बाहरी जिले में लोकतंत्र समर्थक मार्च के बाद रविवार को लगातार दूसरे दिन यहां पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प हुई। बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी जहां एक नजदीकी पार्क में जुटे थे वहीं प्रदर्शनकारियों का एक अन्य समूह मुख्य सड़क पर था जो यातायात अवरोध और कोन्स से बैरीकेड बना रहे था और फुटपाथ पर बांस बिखेर रहा था।

चेतावनी के संकेत दिखाने के बाद पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिये आंसू गैस के गोलों को इस्तेमाल किया। इसके जवाब में प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव किया जिसके बाद यह जगह पत्थरों से पट गई। इस झड़प से पहले हांगकांग में लोकतंत्र के समर्थन में नए प्रदर्शन की कड़ी में हजारों प्रदर्शनकारी बारिश के बीच हाथों में छाते लिये मार्च में शामिल होने पहुंचे।

हांगकांग के बाहरी इलाके में क्वाई फोंग रेलवे स्टेशन के बाहर प्रदर्शनकारियों पर इस महीने के शुरू में आंसूगैस के गोले दागे जाने के बाद से यह क्षेत्र प्रदर्शन का मुख्य केंद्र बन गया। मार्च के रास्ते में पुलिस को पूरे साजो-सामान के साथ मार्च के रास्ते में देखा जा सकता था। प्रदर्शनकारी अर्धस्वायत्त चीनी क्षेत्र की सड़कों पर दो महीने से ज्यादा समय से हैं। उनकी मांग है कि लोकतांत्रिक तरीके से चुनाव हों और प्रदर्शनकारियों पर नियंत्रण करने के लिये पुलिस द्वारा बल के इस्तेमाल की जांच की जाए।

कोउलून बे में शनिवार को मार्च के दौरान प्रदर्शनकारियों के एक बड़े समूह की पुलिस से झड़प हुई थी। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने सड़कों पर जगह-जगह अवरोध लगाए और आग लगाई। पुलिस ने कहा कि उन्होंने 17 से 52 साल की उम्र के 29 लोगों को आक्रामक हथियार रखने और पुलिस अधिकारियों पर हमला करने के जुर्म में गिरफ्तार किया गया है।