इंज़माम-युसूफ को चमत्कार की उम्मीद

इंज़माम-युसूफ को चमत्कार की उम्मीद

नई दिल्ली : आईसीसी विश्व कप 2019 में देरी से वापसी करने वाली पाकिस्तान क्रिकेट टीम टूर्नामेंट से बाहर होने की कगार पर है। बांग्लादेश के खिलाफ मैच सरफराज की टीम के पास सेमीफाइनल में पहुंचने का आखिरी मौका होगा। हालांकि, इस मैच को लेकर जो समीकरण पाकिस्तान के सामने हैं, उन्हें देखकर लगता है कि पाकिस्तान का विश्व कप का सफर इस मैच से पहले ही खत्म हो चुका है।

पाकिस्तान के आगे बढ़ने की संभावनाओं का विश्लेषण करते हुए, पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर मोहम्मद यूसुफ का मानना है कि अगर पाकिस्तान को इस चमत्कार को अंजाम देना है, तो उन्हें 'बांग्ला टाइगर्स' पर हमला करना होगा। उन्होंने कहा, 'पाकिस्तान पहले ही विश्व कप से बाहर हो चुका है, जब तक कोई चमत्कार नहीं होता है, इस बारे में कोई दूसरा विचार नहीं है।'

युसूफ ने कहा, 'अगर पाकिस्तानी टीम को जीत हासिल करनी है, तो बांग्लादेशी खिलाड़ियों पर बिजली गिरानी होगी। अगर कोई ऐसा समीकरण है जहां पाकिस्तान को 1 ओवर में सिर्फ 10 रन बनाने हैं, तो ये भी एक मुश्किल काम है। यहां तक ​​कि अगर आप सबसे कमजोर टीमों में से एक के खिलाफ खेल रहे हैं, तो भी 316 रन से जीतना एक बहुत बड़ा काम है। लेकिन, मैं चमत्कार होने की प्रार्थना करते हूं।'

पाकिस्तान-बांग्लादेश मैच से पहले, सलामी बल्लेबाज इमाम-उल-हक ने कहा है कि उनकी टीम के पास खोने के लिए कुछ भी नहीं है और टीम सेमीफाइनल में खेलने के लिए पूरा जोर लगा देगी। इमाम ने कहा, 'हम ऐसा नहीं सोच रहे हैं कि हम सेमीफाइनल में नहीं पहुंचेंगे। हमारी योजना एक ऑल-आउट प्रयास के साथ अंत में सेमीफाइनल खेलने की है, अगर ऐसा नहीं होता है तो हमें सकारात्मक क्रिकेट खेलना होगा और विश्व कप अभियान को अच्छे संदर्भ पर खत्म करना होगा।'