अगर आप राष्ट्रवादी हैं तो देश के सारे शहीदों का करें सम्मान: प्रियंका गाँधी

अगर आप राष्ट्रवादी हैं तो देश के सारे शहीदों का करें सम्मान: प्रियंका गाँधी

यह वक़्त मुखौटों को उतारकर सच्चाई दिखाई देने का है : ज्योतिरादत्त सिंधिया आगरा: आगरा के जरार में सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने फतेहपुर सीकरी से प्रत्याशी राज बब्बर के समर्थन में जनसभा को संबोधित किया. इसमें प्रियंका ने जहां राष्ट्रवाद को लेकर भाजपा पर तीखे प्रहार किए तो वहीं राहुल ने नोटबंदी और किसानों के मुद्दे पर नरेंद्र मोदी को घेरा. जनसभा को सम्बोधित करते हुए श्रीमती प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि भाजपा के लोग खुद को राष्ट्रवादी कहते हैं अगर वे राष्ट्रवादी हैं तो देश के सारे शहीदों का सम्मान करना चाहिए, अगर वे राष्ट्रवादी हैं तो चुनाव के वक्त पाकिस्तान की नहीं हिन्दुस्तान की बात करनी चाहिए। उन्होने कहा कि भाजपा को हिन्दुस्तान के युवाओं, किसान और जवानों की बात करनी चाहिए। उन्हें बताना चाहिए कि वे उनके लिए क्या करने जा रहे हैं। महिलाओं को बतायें कि वे उनके लिए क्या करने जा रहे हैं। किसानों के लिए क्या योजनाएं बनायी हैं। उन्होने कहा कि ऐसा लगता है कि इस सरकार को न तो लोकतंत्र पर गर्व है, न ही हमारी जनता पर गर्व है, न हमारी संस्थाओं पर गर्व है। अगर वे राष्ट्रवादी हैं तो उन्हें सभी संस्थाओं का सम्मान करना चाहिए जिसके कारण उन्हें सत्ता मिली है, अगर यह असली राष्ट्रवादी होते तो सत्य का मार्ग पकड़ते। क्योंकि यह देश सत्य पर आधारित है और जो सत्य के मार्ग से भटक जाता है उसे देश कभी नहीं बख्शता। उन्होने कहा कि जब छात्रों, किसानों, अध्यापकों या किसी भी वर्ग ने अपना अधिकार मांगा तो उन्हें पीटा गया। उनके खिलाफ मामले दर्ज किये गये और उन्हें देशद्रोही बताया गया। सवाल पूछने वालों को देशद्रोही बता दिया गया है। श्रीमती प्रियंका गांधी जी ने कहा कि जब सरकार करोड़ों रूपये अमीर उद्योगपतियों को दे सकती है तो हम गरीबों को 72 हजार रूपये क्यों नहीं दे सकते।

जनसभा को सम्बोधित करते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि यह वक्त है बदलाव का। मुखौटों को उतारकर सच्चाई दिखाई देने का अवसर है। उन्होने कहा कि राजबब्बर जी इसी माटी के हैं इसी अंचल के हैं जन-जन के प्रत्याशी हैं उन्होने कहा कि इस सरकार के साठ महीने की घड़ी बीत गयी वे दिखाई नहीं दिये। लेकिन आज वे फिर वोट मांगने आ गये। 84 देशों की यात्रा करने के बाद। उन्होने कहा किसान परेशान है उन्होने वादा किया था कि लागत को आधा करेंगे और समर्थन मूल्य दुगुना करेंगे, किन्तु ऐसा नहीं हुआ, बल्कि लागत दो गुना हो गया और कृषि उपज का समर्थन मूल्य आधा हो गया। आलू की कीमत किसानों को 600 रूपये प्रति कुंतल भी नहीं मिल पाया। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री जी पाकिस्तान बिरयानी खाने चले गये चीन के राष्ट्रपति को झूला झुलाया किन्तु दुःखी किसानों से मिलने का उनको समय नहीं मिला। उन्होने कहा कि मोदी जी ने कहा था हम ले आयेंगे अवसरों की भरमार, लेकिन लेकर आये पान और पकौड़ों वाली सरकार।

जनसभा को सम्बोधित करते हुए उ0प्र0 कंाग्रेस कमेटी के अध्यक्ष एवं फतेहपुर सीकरी से कांग्रेस प्रत्याशी राजबब्बर ने कहा कि आज की रैली में भाग लेने आते हुए बसों को रोका गया बहुत कहने पर छोड़ी गयीं लेकिन वह समय जल्द आयेगा जब राहुल गांधी जी, प्रियंका गांधी जी और ज्योतिरादित्य सिंधिया जी का आदेश चलेगा और सभी सड़कें युवाओं, किसानों, बेरोजगारों के लिए खोल दिये जायेंगे। उन्होने राहुल गांधी जी से मांग करते हुए कहा कि सरकार बनने पर यहां पर एक सैनिक स्कूल खोला जाए जिसके माध्यम से यहां के किसानों के बच्चे सेना में जाकर देश की सेवा कर पायें क्योंकि यहां के बच्चे सेना में जाना चाहते हैं।