आईजीसीएलः अवध के शेरों ने खोला जीत से खाता

आईजीसीएलः अवध के शेरों ने खोला जीत से खाता

उद्घाटन मैच में फाइटर आल्हा उदल को छह विकेट से दी मात

लखनऊ। मैन ऑफ द मैच मोहित (69 रन, 38 गेंद, 7 चौके, दो छक्के) के आतिशी अर्धशतक से अवध के शेर ने इंडियन ग्रामीण क्रिकेट लीग (आईजीसीएल) के उद्घाटन मैच में फाइटर आल्हा उदल को छह विकेट से मात देते हुए अपने अभियान की शानदार शुरुआत की।

केडी सिंह बाबू स्टेडियम में खेलेे गए इस मैच में फाइटर आल्हा उदल के कप्तान ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 16 ओवर में छह विकेट केे नुकसान पर 144 रन बनाए। ऋषि ने सर्वाधिक 65 रन बनाए जबकि निखिल ने भी 45 रन की उम्दा पारी खेली। अवध के शेर की ओर से गेंदबाजी करते हुए चंदन ने तीन विकेट चटकाए। आरपी और मनीष को एक-एक विकेट मिला।

जवाब में अवध के शेर ने 14.4 ओवर में चार विकेट के नुकसान पर जीत के लिए आवश्यक रनों का लक्ष्य पाते हुए छह विकेट से मैच जीत लिया। टीम से मोहित ने 38 गेंदों पर सात चौकों व दो छक्कों की सहायता से 69 रन की अर्धशतकीय पारी खेली। वहीं मनीष ने 20 गेंदों पर 24 रन की पारी खेली।

इससे पहले चिलचिलाती धूप के बीच दर्शकों व क्रिकेट के दीवानों से भरे केडी सिंह बाबू स्टेडियम में इंडियन ग्रामीण क्रिकेट लीग (आईजीसीएल) के उद्घाटन समारोह में लीग के थीम सांग बल्ला घुमाएंगे किस्मत बनाएंगे की धूम रही। एक नए कलेवर में प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों की छह टीमों के बीच इस बार हो रहे आईजीसीएल के मुकाबलों का उद्घाटन भी आज नई पहल के तहत हुआ। उद्घाटन समारोह में मुख्य अतिथि एसिड अटैक विक्टिम अंशू और लेडीज बाइकर्स ग्रुप फ्लाइंग राइडर्स की सदस्यों ने आईजीसीएल के चेयरमैन डा.अनुराग भदौरिया के साथ गुब्बारे उड़ाकर किया। वहीं इस दौरान एसिड अटैक विक्टिम अंशू ने बल्ले से शॉट भी खेला। उद्घाटन समारोह के दौरान रोशनी बैंड के सदस्यों ने अपने मधुर गानों से समां बांधते हुए प्रतिभागी टीमों का हौसला बढ़ाया।

इस अवसर पर आईजीसीएल के चेयरमैन डा.अनुराग भदौरिया ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों के क्रिकेटरों में ऐसी प्रतिभा छिपी है जिसे मंच व मौका तथा प्रसिद्धि देने का काम इंडियन ग्रामीण क्रिकेट लीग बखूबी कर रही है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण युवाओं के पास अपने खेल कौशल को बेहतर बनाने हेतु आवश्यक सामग्री, मैदान, कोच जैसी सुविधाओं का अभाव रहता है, फिर भी उनमें असीमित जोश व स्फूर्ति है।

श्वेता दीक्षित बनीं आईजीसीएल फ्रेश फेसः इस दौरान आयोजित आईजीसीएल फ्रेश फेस कंप्टीशन की विजेता श्वेता दीक्षित बनीं। उन्हें पुरस्कार के तौर पर 21,000 रूपए का नगद पुरस्कार मिला। पेशे से इंटीरियर डिजाइनर और माडल श्वेता 2016 में मिसेज यूपी की विजेता रही है और उन्होंने 2017 में मिसेज इंडिया इंटरनेशनल कंप्टीशन में भी हिस्सा लिया था। अपने मित्रों के साथ उद्घाटन समारोह में पहुंची श्वेता दीक्षित ने कहा कि मेरे लिए यह कापफी चौंकाने वाला रहा कि इतने लोगों के बीच उन्हें चुना गया। उन्होंने इस टूर्नामेंट में दिखाए जा रहे ग्रामीण क्रिकेटरों के हौसले की भी सराहना भी की।

लेडीज बाइकर ग्रुप भी रहा मौजूदः लेडीज बाइकर ग्रुप फ्लाइंग राइडर्स ने भी खिलाड़ियों का हौसला बढ़ाया। ग्रुप की लीडर नितिका सिंह ने बताया कि उनके ग्रुप में 20 लड़कियां है और एक साल पहले बने हमारे ग्रुप की सदस्य दिल्ली सहित कई जगह जा चुकी है ताकि समाज को यह संदेश दे सके कि लड़कियां भी किसी से कम नहीं है। इस ग्रुप में नेशनल तैराक व गोताखोर गरिमा कपूर भी जुड़ी है।