जेटली ने शत्रु को बताया सिरदर्द, कांग्रेस का अदा किया शुक्रिया

जेटली ने शत्रु को बताया सिरदर्द, कांग्रेस का अदा किया शुक्रिया

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के बागी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा के आम चुनाव से ऐन पहले कांग्रेसी खेमे मे जाने को लेकर केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने तंज कसा है। उन्होंने अभिनेता से राजनेता बने शॉटगन को पार्टी के लिए सिरदर्द करार दिया है और कांग्रेस को उसे स्वीकारने के लिए शुक्रिया अदा किया है। फेसबुक ब्लॉग के जरिए वित्त मंत्री ने बताया, “बीजेपी के जाने-माने कुछ पूर्व चेहरों को कांग्रेस ने तोहफे के रूप में कबूल कर लिया है। हम कांग्रेस को इसके लिए शुक्रिया अदा करते हैं, क्योंकि हमारा सिरदर्द अब उनका हो चुका है। गुड लक।”

गठबंधन को लेकर कांग्रेस को घेरते हुए वह यह भी बोले कि इन दिनों मुख्य विपक्षी दल के लिए चीजें ठीक नहीं हैं, क्योंकि राहुल गांधी के नेतृत्व में पार्टी किसी भी राज्य में अर्थपूर्ण गठबंधन करने में कामयाब नहीं रही। जेटली यही नहीं रुके, उन्होंने गठबंधन को राजनीतिक सर्कस भी बताया। कहा, “महागठबंधन पहले ही फेल हो चुका है, क्योंकि तीसरे चरण का नामांकन की आखिरी तारीख मुहाने पर आ रही है। वहां कोई गठबंधन नहीं है। महागठबंधन को अकेला रहने दीजिए।”

बकौल वित्त मंत्री, “गठबंधन के पास न तो कोई नेता है, न ही योजना। उन लोगों के विचार भी नहीं मिलते हैं, जबकि मुख्य वजह स्थिरता की कमी भी होना है।” वित्त मंत्री के मुताबिक, गठबंधन के हर नेता की अपनी ऊंची चाहते हैं। उन लोगों को लगता है कि वे अराजक स्थिति में सत्ता हासिल कर सकते हैं। आगे उन्होंने यह लिस्ट ट्वीट करते हुए लिखा कि ये विभिन्न संसदीय क्षेत्रों का ब्यौरा है, जो दर्शाता है कि कांग्रेस गठबंधन के लिए योग्य साझेदार नहीं है। देखें राज्यवार ब्यौराः

दरअसल, बिहार के पटनासाहिब से बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा लंबे समय से पार्टी से खफा हैं। सड़क से लेकर सोशल मीडिया तक कई बार वह अपनी पार्टी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी नीतियों को लेकर कड़ी आलोचना कर चुके हैं। कुछ रोज पहले पार्टी ने उनका टिकट काटा, तो उन्होंने भी कांग्रेसी खेमे का रुख किया। खबर है कि वह छह अप्रैल को कांग्रेस में शामिल होंगे।

गुरुवार को नई दिल्ली में उनकी कांग्रेस चीफ राहुल गांधी से मुलाकात भी हुई थी। भेंट के बाद उन्होंने पत्रकारों से कहा था कि वह कांग्रेस में शामिल होंगे और जल्द सकारात्मक समाचार सुनाएंगे। हालांकि, यह पूछे जाने पर कि वह कौन सी सीट से लड़ेंगे? उनका जवाब आया था- सिचुएशन कैसी भी हो, लोकेशन वही रहेगी।