SC के आदेश के बाद मायावती समेत सभी भ्रष्टाचारी पार्टियां चुप: हीरो बाजपेयी

SC के आदेश के बाद मायावती समेत सभी भ्रष्टाचारी पार्टियां चुप: हीरो बाजपेयी

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता हीरो बाजपेयी ने कहा कि भाजपा का भारत के सर्वोच्च न्यायालय व न्याय व्यवस्था में पूर्ण विश्वास है। आज के सर्वोच्च न्यायालय के अभूतपूर्व निर्णय का हम स्वागत करते है जिसमें सर्वोच्च न्यायालय ने मायावती द्वारा अपनी व अपनी पार्टी के चुनाव निशान हाथी की मूर्तियां लगाना जनता के पैसों का दुरूपयोग बताया और कहा कि यह पैसा बसपा प्रमुख मायावती को सरकारी खजाने में वापस करना होगा। भारतीय जनता पार्टी पहले से ही बसपा प्रमुख मायावती द्वारा जनता के पैसों के दुरूपयोग की बात उठाती रही है। भाजपा का आरोप न्यायालय के निर्णय से सही प्रतीत हो रही है।

प्रदेश पार्टी मुख्यालय पर पत्रकारों से चर्चा करते हुए प्रदेश प्रवक्ता हीरो बाजपेयी ने कहा कि उ0प्र0 में पिछले 15 वर्षो से सपा व बसपा सरकारों ने जनता के धन का दुरूपयोग किया है। बसपा सुप्रीमो मायावती द्वारा जो मूर्तियां लगाई गई थी उनका विरोध उस समय समाजवादी पार्टी ने भी किया था। परन्तु दोनो पार्टियों के नेताओं का आचरण रहा है कि जनता की गाढ़ी कमाई जो टैक्स के रूप में प्राप्त होती है वह अपनी पार्टी व अपने निजी हितों को में ही व्यय किया जाए। बसपा का मूर्ति घोटाला हो या सपा का टोटी घोटाला सब जनता की गाढ़ी कमाई का दुरूपयोग ही था।

प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि आज सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय आने के बाद देश में भ्रष्टाचारी व एक परिवार द्वारा चलाई जाने वाली पार्टियां चुप है। सबके सब 2019 का चुनाव मिलकर लड़ने की कोशिश में है, लेकिन जनता इन भ्रष्टाचारी पार्टियों व उनके प्रमुखों के आचरण को भली-भांति देख रही है। एक तरफ देश मंे नरेन्द्र मोदी सरकार व दूसरी तरफ प्रदेश में योगी सरकार है जो देश व प्रदेश के मान-सम्मान को बढ़ा रही है और विकास जिनका एजेण्डा है और दूसरी तरफ जनता की गाढ़ी कमाई ठगने वाले परिवारवादी, महाभ्रष्ट, अवसरवादी व हमेशा एक दूसरे का विरोधी रहने वाले सिर्फ व सिर्फ मोदी विरोधी महाभयबन्धन में है। बसपा, सपा व कांग्रेस सहित कई दलों के नेताओं के व उनके परिवारों के भ्रष्टाचार के नित नये-नये कारनामें सामने आ रहे है।

Lucknow, Uttar Pradesh, India