मनीष सिसोदिया ने भुखमरी से हुई तीन बच्चियों की मौत की ज़िम्मेदारी स्वीकारी

मनीष सिसोदिया ने भुखमरी से हुई तीन बच्चियों की मौत की ज़िम्मेदारी स्वीकारी

नई दिल्ली: दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने स्वीकार किया है कि राजधानी के मंडावली में भुखमरी से तीन बच्चियों की मौत के लिए सरकार जिम्मेदार है. उन्होंने कहा कि सरकार जिम्मेदारी से नहीं बच सकती.

उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने तीन बच्चियों की कुपोषण से मौत के सवाल पर कहा कि ''दिल्ली सरकार हर हाल में मानती है कि हमारी यह जिम्मेदारी है कि हम हर हाल में लोगों की हालत को ठीक करें, लोगों का खयाल रखें, चाहे इलाज के लिए, चाहे गरीबी के लिए हो, भुखमरी के लिए हो. मानता हूं कि बिल्कुल सरकार की ज़िम्मेदारी है. सरकार ज़िम्मेदारी से कैसे बच सकती है?''

सिसोदिया ने कहा कि ''रिकॉर्ड में दिख रहा है कि सोमवार को बच्ची ने मिड डे मील खाया है. नारायण सिंह (बच्चियों के पिता के दोस्त) का भी कहना है कि सोमवार को घर में खाना बना था, सबने खाना खाया था. अचानक एक रात में तीनों बच्चियों का एक साथ मर जाना बड़ा अजीब सा है. यकीन नहीं होता बहुत पीड़ादायक है.''

डिप्टी सीएम ने कहा कि ''सिस्टम को ठीक करने की जरूरत है, सिस्टम बहुत कुछ कर सकता था.परिवार के पास आधार था, राशन कार्ड का अभी पता नहीं. आंगनवाड़ी की ये ज़िम्मेदारी है कि गली-गली में जाकर कुपोषित बच्चों को देखे और योजना बनाए.आज मैंने सभी आंगनवाड़ी वालों को बुलाया और पूछा कि जो भूख से मर गए आपके रिकॉर्ड में वे क्यों नहीं हैं, और अगर हैं तो बताओ. रिपोर्ट मांगी है.''

सिसोदिया ने कहा कि ''हमने 25 हज़ार नगद को मदद की है. बच्चों के पिता के मिलने पर उनके खाते में पांच लाख की सहायता राशि देंगे.''

India