INDvSA: पहले दिन का अंतिम सेशन टीम इंडिया के नाम

INDvSA: पहले दिन का अंतिम सेशन टीम इंडिया के नाम

दक्षिण अफ्रीका ने 6 विकेट के नुकसान पर बनाये 269 रन

सेंचुरियन: दक्षिण अफ्रीका और भारत के बीच में फ्रीडम सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच सेंचुरियन के मैदान में खेला गया जिसमे दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ ड्यू प्लेसिस ने एक बार फिर से टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिए और पहले दिन का खेल खत्म होने तक दक्षिण अफ्रीका की टीम 269 रन 6 विकेट के नुकसान पर बना चुकी थी.

दूसरे टेस्ट मैच में सभी को आशा थी कि विराट कोहली उपकप्तान आजिंक्य रहाणे को टीम में शामिल करेंगे लेकिन उन्होंने सभी को एक बार फिर से चौंकाते हुए रहाणे को टीम में शामिल नहीं किया साथ में पहले टेस्ट में अच्छा प्रदर्शन करने वाले भुवनेश्वर कुमार को भी इस टेस्ट मैच में बाहर करके उनकी जगह पर इशांत शर्मा को शामिल किया. इस निर्णय का लाभ दक्षिण अफ्रीका की टीम ने भरपूर उठाया और पहले सेशन में दोनों ही डीन एल्गर और एडिन मार्करम ने बिना किसी नुकसान के दक्षिण अफ्रीका की टीम को 78 रन बना दिए.

भारतीय टीम के तेज गेंदबाज पहले सेशन में कोई भी सफलता टीम को नहीं दिला सके इसके बाद कप्तान कोहली ने अश्विन को गेंदबाजी में लगाया जिन्होंने सबसे पहले डीन एल्गर को मुरली विजय के हाथों 31 रन पर कैच आउट कराकर भारत को पहली सफलता दिलाईं इसके बाद अश्विन ने दूसरे ओपनिंग बल्लेबाज एडिन मार्करम को शतक नहीं पूरा करने दिया और उन्हें 94 के निजी स्कोर पर पार्थिव पटेल के हाथों आउट करा दिया. जिस समय दूसरे सेशन का खेल खत्म हुआ तब तक दक्षिण अफ्रीका की टीम ने 182 रन बना लिए थे और उस समय क्रीज पर हासिम अमला और एबी डिविलियर्स मौजूद थे.

आखिरी सेशन का खेल जिस समय शुरू हुआ तो थोड़ी ही देर बाद एबी डिविलियर्स को इशांत शर्मा ने 20 रन के स्कोर पर बोल्ड कर दिया इसके बाद हासिम अमला जो धीरे-धीरे अपने शतक की तरफ बढ़ रहे थे उन्हें हार्दिक पंड्या ने एक शानदार रन आउट कर दिया जिसके बाद डी कॉक को अश्विन ने 0 पर आउट करके भारतीय टीम की इस टेस्ट मैच में एक बार फिर से वापसी करा दी. हार्दिक ने अपने अगले ओवर में वर्नन फिलेंडर को भी रन आउट करके अफ्रीका टीम की पकड को कमजोर कर दिया और एक 246 पर तीन से अफ्रीका का स्कोर 251 पर 6 विकेट हो गया. पहले दिन का खेल खत्म होने तक दक्षिण अफ्रीका की टीम ने 269 रन 6 विकेट के नुकसान पर बना लिए थे और उस समय ड्यू प्लेसिस 24 और केशव महाराज 10 रन बनाकर खेल रहे थे.