क्या रामधुन से भी UP सरकार को है परहेज़ है: राज बब्बर

क्या रामधुन से भी UP सरकार को है परहेज़ है: राज बब्बर

लखनऊ: गोरखपुर में ऑक्सीजन की कमी के कारण दर्जनों मासूमों की मौत पर योगी सरकार के खिलाफ प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर के नेतृत्व में प्रदर्शन कर रहे सैकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार किया|

पुलिस द्वारा हाथापाई और गिरफ्तारी पर बोलते हुए राज बब्बर कि गोरखपुर में बाल संहार से दुखी हज़ारों लखनऊ वालों ने सार्वजनिक रामधुन में शिरकत की ये बात योगी सरकार को बुरी क्यों लग गयी ? ये कैसी निर्ममता है| क्या रामधुन से भी UP सरकार को है परहेज़ है ।

उ0प्र0 कंाग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राजबब्बर सांसद ने कहा कि आज के ही दिन 16अगस्त 1947 को कलकत्ता में जिस प्रकार राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी को हिन्दू महासभा एवं मुस्लिम लीग द्वारा मारा-पीटा गया उन्होने तब भी हिंसा का सहारा नहीं लिया और अहिंसा का साथ नहीं छोड़ा। आज हम सभी गांधी जी के बताये हुए उसी रास्ते पर चलकर अपनी अहिंसात्मक आवाज उठा रहे हैं। हम गांधीवादी तरीके से आवाज उठाकर गोरखपुर मेडिकल कालेज में हुई बच्चों की हत्या पर कार्यवाही की मांग कर रहे हैं। इस गूंगी बहरी सरकार के विरूद्ध गांधी के रास्ते पर चलकर संघर्ष का बिगुल हम बजाते रहेंगे, जब तक बच्चों की हत्यारी सरकार से उन माताओं केा न्याय नहीं मिल जाता।

प्रदेश कंाग्रेस के अरूण प्रकाश सिंह ने बताया कि कंाग्रेसजनों ने आज गांधी जी की प्रतिमा के नीचे ढाई घण्टे रामधुन, भजन गाये और फिर ‘रघुपति राघव राजा राम’ गाते हुए सड़क पर निकल गये। गोरखपुर के बाबा राघवदास मेडिकल कालेज में लगभग 70 बच्चों की हत्या के विरोध में प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं स्वास्थ्यमंत्री से इस्तीफा मांगने, बच्चों की हत्या के दोषी लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की मांग को लेकर जीपीओ पार्क स्थित गांधी प्रतिमा के नीचे आज सैंकड़ांे की संख्या में कंाग्रेसजनों ने ढाई घण्टे तक गांधीजी के प्रिय भजन एवं रामधुन का पाठ किया। इसके उपरान्त रामधुन गाते हुए मांगों केा लेकर विधानसभा की ओर सड़क पर बढ़ रहे थे, पुलिस ने रोका तब सभी कंाग्रेसजन सड़क पर बैठ कर रामधुन गाने लगे तब पुलिस द्वारा कंाग्रेसजनों को सांसद प्रमोद तिवारी के नेतृत्व में गिरफ्तार कर लिया गया। प्रदेश कंाग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर सांसद सहित सैंकड़ों कंाग्रेसजनों को गिरफ्तार कर बसों में भरकर मालएवेन्यू चौराहे पर छोड़ा गया।

इस मौके पर प्रमोद तिवारी सांसद ने कहा कि गोरखपुर की घटना प्रदेश की सबसे जघन्य घटना है। लगभग 70 बच्चों की आक्सीजन की कमी से तड़प-तड़प तक जानें गयी हैं यह प्रदेश सरकार के लिए शर्मनाक है और इसके लिए पूरी तरह प्रदेश सरकार जिम्मेदार है। श्री अमित शाह द्वारा गुजरात में दिये गये बयान की उन्होने कड़ी निन्दा करते हुए कहा कि उनका बयान न सिर्फ शर्मनाक है बल्कि उत्तर प्रदेश का और उन सभी माताओं का अपमान है जिनकी कोख सूनी हो गयी है।

Lucknow, Uttar Pradesh, India