ओकीफ ने रोका  'विराट का विजय रथ'

ओकीफ ने रोका 'विराट का विजय रथ'

पुणे टेस्ट में टीम इंडिया की शर्मनाक हार

पुणे. ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम ने महाराष्ट्र क्रिकेट संघ मैदान पर खेले गए पहले टेस्ट मैच के तीसरे दिन शनिवार को भारत को 333 रनों से हरा दिया. रन के लिहाज से टीम इंडिया की अपनी धरती पर दूसरी सबसे बड़ी हार मिली है. इससे पहले 2004 में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को नागपुर में 342 रनों से हराया था. इसके साथ मेहमान टीम ने चार मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है. ऑस्ट्रेलिया ने भारत के सामने 441 रनों का टारगेट रखा था, लेकिन मेजबान टीम 107 रनों पर ढेर हो गई.

ऑस्ट्रेलिया की ओर से स्टीव ओकीफ ने दूसरी पारी में छह विकेट लिए. नेथन लॉयन को चार सफलता मिली. ओकीफ ने पहली पारी में भी छह विकेट लिए थे. ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पहली पारी में 260 रन बनाने के बाद भारत की पहली पारी 105 रनों पर समेट दी थी. इसके बाद उसने अपनी दूसरी पारी में 285 रन बनाते हुए भारत के सामने असम्भव सा टारगेट रखा था.

बड़े स्कोर का टारगेट का पीछा कने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत बेहद खराब रही. उसे 20 रन के टीम स्कोर पर पहला झटका मुरली वियज के रूप में लगा. उन्हें 2 रन के निजी स्कोर पर ओकीफ ने एलबीडब्ल्यू आउट किया. इसके कुछ ही देर बाद दूसरे ओपनर लोकेश राहुल 10 रन बनाकर नेथल लायन की बॉल पर पगबाधा आउट हुए. टीम इंडिया संभलती इससे पहले ही विराट कोहली को ओकीफ ने बोल्ड करते हुए तीसरा झटका दे दिया. वे 13 रन बनाकर आउट हुए. थोड़ी ही देर बाद अजिंक्य रहाणे भी 18 रन बनाकर पवेलियन चलते बने. आर अश्विन बल्ले से कुछ खास कमाल नहीं दिखा सके और केवल 8 रन बनाकर आउट हो गए. रिद्धिमान साहा 5 रन ही बना पाए.

ऑस्ट्रेलिया ने टीम इंडिया को जीत के लिए 441 रन का टारगेट दिया है. मेहमान टीम ने पहली पारी में 260 रन बनाए थे, जबकि दूसरी पारी 285 रन पर सिमटी. कंगारू टीम के कप्तान स्टीवन स्मिथ ने सबसे अधिक 109 रन की पारी खेली, जबकि पहली पारी में जोरदार फिफ्टी लगाने वाले स्टार्क ने 31 बॉल में 30 रन बनाए. वहीं भारत के लिए आर. अश्विन ने 4 और रवींद्र जडेजा ने 3 विकेट लिए. उमेश यादव के नाम दो और जयंत यादव के नाम एक विकेट रहे.

ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी में स्टीवन स्मिथ को छोड़ दिया जाए तो कोई खास नहीं कर सका, लेकिन भारत पहली पारी में इतने कम रन पर ऑलआउट हुआ था कि 285 रन भी अब उस पर भारी पड़ते नजर आ रहे हैं. स्मिथ ने ऑस्ट्रेलियाई कप्तान के तौर पर 10वीं और करियर की 18वीं सेंचुरी लगाई. वे 109 रन बनाकर जडेजा की बॉल पर पगबाधा हुए. उनके अलावा रेनशॉ और मार्श ने 31-31, जबकि स्टार्क ने 30 रन की पारी खेली. शॉन मार्श (0) और कीफ (6) को छोड़कर सभी ने बल्लेबाजों ने दहाई का आंकड़ा छुआ.

इससे पहले दूसरे दिन की शुरुआत में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 105 रन पर ऑलआउट कर दिया. इसके साथ ही महमान टीम को 155 रनों की बढ़त मिल गई. टीम इंडिया की पारी शुरुआत से ही अच्छी नहीं रही. सलामी बल्लेबाज केएल राहुल (62) के अलावा कोई भी बल्लेबाज क्रीज पर नहीं टिक पाया. भारत ने बाकी के 9 विकेट सस्ते में गंवा दिए.

पुणे टेस्ट के दूसरे दिन की शुरुआत में ऑस्ट्रेलिया 260 रन पर ऑलआउट हो गई. आखिरी विकेट मिचेल स्टार्क का गिरा. स्टार्क 61 रन बनाकर अश्विन की गेंद पर जडेजा को कैच दे बैठे. मैच का पहला दिन पूरी तरह इंडियन बॉलर्स के नाम रहा. खासकर उमेश यादव के. उन्होंने 4 विकेट लिए, आर. अश्विन ने 3 जबकि रवींद्र जडेजा ने दो विकेट अपने नाम किए. कंगारू टीम के लिए रेनशॉ ने 68 रन बनाए.