भाजपा शासित राज्यों ने सुशासन व विकास साकार करके दिखाया: शिवराज चौहान

भाजपा शासित राज्यों ने सुशासन व विकास साकार करके दिखाया: शिवराज चौहान

लखनऊ: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान ने उ0प्र0 में कानून-व्यवस्था, भ्रष्टाचार और ठप विकास के खिलाफ व्यवस्था परिवर्तन का आह्वान किया। राजधानी स्थित प्रदेश भाजपा मुख्यालय में सोमवार को प्रेसवार्ता में श्री चैहान ने कहा कि उ0प्र0 में भाजपा ने जो संकल्प पत्र प्रस्तुत किया है, उसे भाजपा शासित राज्यों ने करके दिखाया है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश के भाजपा शासन में विकास दर 20 प्रतिशत से ज्यादा हो गयी है। मध्य प्रदेश में पिछले दस सालों में कृषि उत्पादन में नंबर वन रहा और यूपीए के दोनों कार्यकाल और अब मोदी जी की सरकार ने लगातार अवार्ड दिया है।

श्री चैहान ने कहा कि उ0प्र0 जैसा प्राकृतिक संसाधन यदि मध्य प्रदेश में होता तो पूरे देश को बिजली, अनाज मुहैया कराने वाला प्रदेश होता। प्रदेश की अखिलेश सरकार ने पांच साल तक कोई काम नहीं किया। इसका खामियाजा प्रदेश की जनता भुगत रही है। प्रधानमंत्री मोदी जी के विकास के सपने को पूरा करने में उ0प्र0 की अखिलेश सरकार रोड़ा बन रही है। श्री चैहान ने कहा कि मध्य प्रदेश में दस साल में साढ़े साल लाख हेक्टेयर सिंचित क्षेत्र का रकबा बढ़ाकर 40 लाख हेक्टेयर कर दिया।

उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में पानी कम है, फिर भी सिंचाई व्यवस्था का रोड मैप कराकर मध्य प्रदेश में गेहूूं उत्पादन 70 लाख मीट्रिक टन पहुंचा दिया। वहीं उ0प्र0 में गंगा, जमुना व अन्य नदिया और प्रचुर जल संसाधन होने के बावजूद गेहूं उत्पादन सिर्फ 22 लाख मीट्रिक टन रहा। मध्यप्रदेश में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत 60 प्रतिशत से ज्यादा किसानों को न केवल इस योजना का लाभ दिलाया गया, बल्कि 4400 करोड़ की राशि किसानों के खाते में डाल दी गयी। मध्य प्रदेश के भाजपा शासन में किसानों को ब्याज मुक्त फसली ऋण दिया जा रहा है। किसानों को 1200 रूपये प्रति हेक्टेयर के फ्लैट दर से रियाती बिजली दी जा रही है। गांवों में 24 घंटे बिजली मिल रही है। जबकि देश का सबसे बड़ा राज्य होने के बावजूद गांव की तो बात छोड़िए, शहरों में बिजली नहीं मिल रही है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मध्य प्रदेश में गरीबों के लिए 2 लाख मकानों को मंजूरी देकर 1.45 लाख मकान बनाने का काम भी शुरू कर दिया गया। जबकि उ0प्र0 की विकास विरोधी सपा सरकार के राज में केवल 20 हजार आवास मंजूर हुए।

मोदी सरकार की जनहितैषी योजनाओं को अखिलेश सरकार द्वारा रोके जाने के सवाल पर श्री चैहान ने कहा कि अखिलेश सरकार को जनता के दुख दर्द से कोई वास्ता नहीं है। केन्द्र सरकार ने सूखा प्रभावित बुन्देलखण्ड के लिए पैकेज दिये लेकिन उ0प्र0 सरकार ने उस धन को खर्च करने के बजाय बंदरबांट कर लिया। वहीं मध्य प्रदेश सरकार ने माध्य प्रदेश में आने वाले बुंदेलखण्ड के जिलों में माइक्रों, स्प्रिकडिक तकनीक की सिंचाई ढांचा विकसित कर हर खेत को पानी पहुंचा दिया और किसानों को समर्थन मूल् पर शत प्रतिशत खरीदीकर किसानों को आर्थिक रूप से मजबूत कर दिया। कृषि सिंचाई के लिए फण्ड बनाकर किसानों को खुशहाल बनाया। मध्य प्रदेश में कृषि कामगारों को एक रूपये किलों गेहूॅ व चालव देकर सर्वाजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस) मजबूत किया।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी जी के अमृत योजना शुरू कर उद्योग ध्ंाधे, व्यापार और निवेश को बूम दिलाने का बीड़ा उठाया। मध्य प्रदेश के भाजपा शासन में अमृत योजना के तहत 26000 करोड़ के विकास कार्य चल रहे है। वहीं उ0प्र0 में अमृत योजना के तहत के 600 करोड़ के ही काम शुरू हो सका और वह भी आधा-अधूरा। उत्तर प्रदेश के हालात को चिंताजनक बताते हुए श्री चैहान ने कहा कि प्रदेशको विकास की मुख्यधारा में शामिल कराने के लिए कुशासन, भ्रष्टाचार, निष्क्रिय और ध्वस्त कानून व्यवस्था की उपलब्धी वाली अखिलेश सरकार को हटाकर भाजपा की बहुमत की सरकार बननी जरूरी है। केन्द्र सरकार की सब्सिड़ी के बावजूद उ0प्र0 में पीडीएस से 3 रूपये किलो अनाज बिक रहा है।

श्री चैहान ने कहा कि कांग्रेस के शासन में भिंड, मुरैना, ग्वालियर, श्योपुर जिलों में डकैतों के आतंक से लोग शाम पांच बजे के बाद घर से बाहर नहीं निकलते थे। भाजपा सरकार आने के बाद मध्य प्रदेश में डकैतों का सफाया हुआ और नक्सलवाद व आतंकी संगठन सिमी की जड़े काट दी गयी। डकैत और अपराधी या तो मध्य प्रदेश छोड़कर भाग गये या जेलों के भीतर सड़ रहे है। जबकि उ0प्र0 में लूट, बलात्कार, हत्या, डकैती, उगाही जैसे अपराधों से पूरे प्रदेश की जनता त्रस्त है और भय के माहौल में जी रही है।

उन्होंने कहा कि मैंने श्री मुलायम सिंह यादव और श्री अखिलेश यादव के गृह क्षेत्र सहित कई जिलों का चुनावी दौरा किया है। हर जगह जनता ने वर्तमान सपा सरकार, कांग्रेस व बसपा के खिलाफ जनमानस तैयार दिखा और भाजपा के पक्ष में परिवर्तन की लहर चल रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा शासित राज्यों ने सुशासन, विकास, भय-भ्रष्टाचार मुक्त कानून व्यवस्था को संभव बनाकर दिखाया है। उ0प्र0 भाजपा के संकल्प पत्र में किये गये वादे व्यवहारिक है और सरकार बनने के बाद उन्हें अक्षरशः जमीन पर उतारा जायेगा।