कांग्रेस की गोद में बैठ गयी है सपा: मोदी

कांग्रेस की गोद में बैठ गयी है सपा: मोदी

लखीमपुर खीरी: यूपी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर पीएम मोदी सोमवार को लखीमपुर खीरी में पहुंच हुए हैं जहां उन्होंने कहा कि 2014 में जब समाजावादी का सूपड़ा साफ हो गया तो अब गठबंधन की जुगत में लग गए और परिवार भी बिखर गया. अब सपा कांग्रेस की शरण में बैठ गई. जिस राम मनोहर लोहिया जीवनभर कांग्रेस के खिलाफ लड़ते रहे उन्हें आज सपा ने अपमानित किया है. सिर्फ कुर्सी के मोह में सपा कांग्रेस की गोद में बैठ गई है. उन्होंने किसानों का मुद्दा उठाते हुए कहा कि यूपी का सबसे बड़ा जिला लखीमपुर खीरी है. इसे चीनी का कटोरा कहा जाता रहा है. यहां के किसानों का बकाया चुकता करने से यूपी के सीएम अखिलेश यादव को किसने रोका. किसानों के हक को छीना गया है. पीएम ने यह भी कहा कि अगर बीजेपी की सरकार बनती है तो पहली ही मीटिंग में किसानों का कर्जा माफ किया जाएगा.

पहले चरण के मतदान पर बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि 'प्रथम चरण में करारा मतदान हुआ है, विक्रम मतदान हुआ है. पहले चरण के रुख़ ने साफ-साफ बता दिया है कि कितने भी गठबंधन हो जाए सपा बच नहीं पाएगी. जब उन्हें पता चला कि प्रथम चरण में ऐसा हुआ तो उन्हें तीसरा घोषणापत्र जारी करना पड़ा. नए मुद्दे तलाशे जा रहे हैं. आपातकाल के दौरान श्रीमती गांधी ने 20 मुद्दे उठाए थे और एक भी सीट नहीं मिली थी. अब ये 10 मुद्दे लेकर आए हैं तब भी कुछ नहीं होगा. उन्हें अब कोई आशा नजर नहीं आ रही है.'

पीएम मोदी ने कहा कि यूपी में पांच साल से अखिलेश यादव की सरकार है, उन्हें अब पांच साल काम का हिसाब देना चाहिए. उन्होंने अखिलेश यादव को चुनौती पेश करते हुए कहा कि 'मैं यहीं से लखनऊ जाने को तैयार हूं, वह भी आएं. दोनों टिकट लेकर वहां जाएंगे.' उन्होंने मेट्रो प्रोजेक्ट की बात करते हुए कहा कि लोगों को मूर्ख बनाया गया है. आज भी मेट्रो ट्रेन नहीं है. केवल फीता काटा गया है.

यही नहीं पीएम मोदी ने मेदांता अस्पताल का नाम लेते हुए कहा कि उस जगह का उद्घाटन किया गया है लेकिन वहां पर बीपी भी चेक नहीं होता है. वहां कोई डॉक्टर नहीं है. उन्होंने आरोप लगाया कि माताएं बहनें घर के बाहर चेन पहनने से डरती हैं. चेन छीनने का डर रहता है. गुंडागर्दी है. राज्य में बिल्कुल भी कानून व्यवस्था नहीं है. यूपी में हर दिन 20 बलात्कार की घटनाएं होती हैं. हर दिन यहां पर 17 तक हत्याएं होती हैं. हर हत्या के पीछे राजनीति की बू आती है. पूरा यूपी जानता है कि जेलों में बंद लोग बाहर गैंग चलाते हैं. जेल से इशारे पर लोगों की हत्या हो जाती है.

पीएम मोदी ने आरोप लगाया कि राज्य के हर जिले के हर थाने को समाजवादी पार्टी का कार्यालय बना दिया गया है. काम करने वाले अफसरों को परेशान किया जाता है. धमकाया जाता है. जाति के आधार पर काम हो रहा है. सपा नेताओं के निर्देश पर काम हो रहा है. नौजवानों को अपने भविष्य के लिए आगे आना होगा.

उन्होंने कहा कि जब मैडम मायावती की सरकार थी तब 2010-12 के बीच में यूपी के 23 गांव में बिजली भेजने का काम किया गया. अखिलेश यादव को राजकुमार कहकर संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि इनकी सरकार में 2012-14 में यूपी में अखिलेश सरकार का काम कुछ यूं बोला. इस दौरान इन नौजवान मुख्यमंत्री ने दो साल में केवल 3 गांव में बिजली पहुंचाई. यूपी में 1500 गांव अंधेरे में थे. 2014 में दिल्ली में बीजेपी की सरकार बनी तब हमने दो साल में काम करके दिखाया. काम दूर से दिखता है. दो साल में केंद्र सरकार के जरिए यूपी में 1364 गांव में बिजली पहुंचाने का दावा किया.