अखिलेश को मिल गयी साइकिल,चुनाव आयोग ने सुनाया फैसला

अखिलेश को मिल गयी साइकिल,चुनाव आयोग ने सुनाया फैसला

नई दिल्ली। सपा संस्थापक मुलायम सिंह को बड़ा झटका लगा है। सूत्रों के मुताबिक साइकिल का चुनाव चिन्ह अखिलेश यादव को मिल गया है। चुनाव आयोग ने अखिलेश यादव को ही समाजवादी पार्टी का अध्यक्ष माना है। अखिलेश यादव और मुलायम सिंह यादव के खेमे के 'साइकिल' पर बारी-बारी से दावा करने के बाद चुनाव आयोग ने आज अपना यह अहम फैसला सुनाया है।

बता दें कि यूपी में पहले चरण के मतदान के लिए 17 जनवरी को नामांकन होना है, उससे पहले चुनाव आयोग को सपा के विवाद को सुलझाना होगा। दोनों पक्ष 'साइकिल' पर दावा ठोक रहे हैं। हालांकि पहले हुए इस तरह के विवादों पर चुनाव आयोग के फैसलों को देखें तो आयोग ने चुनाव चिह्न ही फ्रिज किए हैं। अब ये देखना काफी अहम होगा कि 'साइकिल' पर आज चुनाव आयोग क्या फैसला करता है?

गौरतलब है कि सपा में जारी संकट के बीच सबसे पहले मुलायम और फिर अखिलेश खेमे ने चुनाव आयोग में चुनाव चिह्न पर दावा ठोका था। मुलायम ने कहा है कि पार्टी उन्होंने बनाई है इसलिए 'साइकिल' पर पहला हक उनका है।

अखिलेश खेमे के रामगोपाल यादव ने छह जनवरी को अखिलेश के समर्थक नेताओं की सूची सौंपी थी। उन्होंने बताया था कि 229 में से 212 विधायकों, 68 में से 56 विधान परिषद सदस्यों और 24 में से 15 सांसदों ने अखिलेश को समर्थन देने वाले शपथ पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं। रामगोपाल ने कहा था कि अखिलेश यादव के नेतृत्व वाली पार्टी ही असली समाजवादी पार्टी है। 'साइकिल' इसी खेमे को मिलनी चाहिए।