NDTV से टूटा बरखा दत्त का 21 बरस का रिश्ता

NDTV से टूटा बरखा दत्त का 21 बरस का रिश्ता

नई दिल्ली: सीनियर पत्रकार बरखा दत्त ने एनडीटीवी से इस्तीफा दे दिया है। एनडीटीवी में बरखा दत्त बतौर कंसल्टिंग एडिटर कार्यरत थीं। रिपोर्ट्स के मुताबिक वे खुद का वेंचर शुरू कर सकती हैं। एक आधिकारिक बयान जारी करके एनडीटीवी ने उनके लंबे समय तक चैनल के साथ कार्यकाल की तारीफ की और उनके भविष्य के लिए बधाई दी है। बयान में कहा गया है, ‘साल 1995 में कॉलेज से पास होने के बाद बरखा दत्त ने सीधे एनडीटीवी ज्वाइन कर लिया था। अब शानदार 21 साल बिताने के बाद बरखा ने अपील की कि वे नए अवसर की तलाश करना चाहती हैं और खुद के वेंचर पर काम करना चाहती हैं। एनडीटीवी के साथ कार्यकाल में उन्होंने काफी ग्रोथ कीं और भारत के साथ-साथ दुनिया के कई हिस्सों में एक मशहूर हुईं और कई अवार्ड जीतें। हमें विश्वास है कि बरखा और ज्यादा से ज्यादा ग्रोथ करें और एनडीटीवी उनके भविष्य के लिए उन्हें बधाई देता है।’ बरखा दत्त साल 1999 में कारगिल युद्ध के दौरान कवरेज से फेमस हुई थीं। उन्होंने कई नेशनल और इंटरनेशनल अवार्ड जीते हैं। इन्हें पदश्री से भी सम्मानित किया जा चुका है। हालांकि, इनसे जुड़े कई विवाद भी सामने आए थे। इनका नाम राडिया टेप में भी आया था।

बरखा दत्त के इस्तीफा देने के बाद वे टि्वटर पर ट्रेंड करने लगीं। कई लोगों ने टि्वटर पर बरखा दत्त पर निशाना साधा। कई यूजर्स ने उन्हें पाकिस्तानी पत्रकार करार दिया। बता दें, बरखा से पहले अरनब गोस्वामी ने टाइम्स नाउ के एडिटर इन चीफ के पद से इस्तीफा दिया था। इसके बाद अरनब भी टि्वटर पर ट्रेंड करने लगे थे।

India