बिहार: गंगा में नाव डूबी, 22  की मौत

बिहार: गंगा में नाव डूबी, 22 की मौत

पटना: पटना के सबलपुर दियारा में रविवार को गंगा नदी में एक नाव के डूब जाने से 22 लोगों की की मौत हो गई. कई लोगों को बचा लिया गया और गोताखोर लापता लोगों की तलाश कर रहे हैं. यह हादसा शाम करीब 6:30 बजे हुआ. लोग पर्यटन मंत्रालय द्वारा आयोजित पतंग उत्सव में शामिल होने पहुंचे थे. प्रत्यक्षदर्शी निहाल ने बताया कि दियारा से नाव चली थी। अभी गंगा में थोड़ी ही दूर नाव गयी कि एकाएक वह सीधे पानी में डूब गयी। नाव पर सवार कुछ लोगों ने कूदकर अपनी जान बचाई। पुलिस के मुताबिक़ छह लोगों को नाव पर सवार युवकों ने बचाया जिन्हें अस्पताल पहुंचाया गया। उनमे दो बच्चे शामिल थे। इधर हादसे की खबर मिलते ही एनडीआरएफ की टीम के साथ पुलिस बाल मौके पर पहुंच गयी। गंगा में नाव और यात्रियों की तलाश जारी है। अभी तक छह लोग पीएमसीएच में भर्ती कराए गए हैं। आपदा प्रबंधन विभाग के सचिव की ओर से एक के मरने की पुष्टि की गयी है। दियारा में डीएम संजय अग्रवाल पहुंच गये हैं। पर्यटन विभाग की व्यवस्थागत खामियों के चलते लोगों को पुलिस की लाठी की मार सहनी पड़ी। पतंग और लटाई के वितरण में अराजक स्थिति उत्पन्न हो जाने को लेकर पुलिस के जवानों ने जमकर लाठियां भांजी। जैसे तैसे काफी मशक्कत के बाद स्थिति सामान्य हो सकी। यही नहीं, पर्यटन विभाग के कॉटेज में खाने पीने की व्यवस्था भी ठीक ढंग से नहीं चल सकी। खाने पीने के लिए भी लोगों की भीड़ अचानक बढ़ जाने से स्थिति असामान्य हो गई। दियारा में बनाया गया जेटी भी टूट जाने से लोगों को दूसरे जगह से आने को मजबूर होना पड़ा। लौटते समय भी लोगों के हुजूम को संभाल पाने में व्यवस्था पूरी तरह ध्वसत नजर आई। वहीं, बिहार राज्य पर्यटन विकास निगम के एमडी उमाशंकर प्रसाद ने बताया कि रविवार से कार्यक्रम निरस्त कर दिया गया है। बता दें कि वर्ष 2012 में शुरू हुए पतंग उत्सव को पहली बार एक दिन में ही निरस्त करना पड़ा है।

India