एक और मुक़दमे ने मंत्री गायत्री की बढ़ाई मुसीबत

एक और मुक़दमे ने मंत्री गायत्री की बढ़ाई मुसीबत

अमेठी। मंत्री गायत्री पर साड़ी मामले में दर्ज मुक़दमे ने राजनैतिक सरगर्मी बढ़ा दी है। अमेठी की जनता साडी पकडे जाने को लेकर काफी गंभीर है और अपने को अपमानित महसूस कर रही है।

आम लोगों की अलग अलग है राय

राधे सरन यादव का कहना है कि अमेठी को साडी दाल नही विकास और सम्मान चाहिए। सुरक्षित माहौल चाहिए जो पांच सालो मे नही मिला । अमेठी के लोगो को भीक्षा दी जाती रही । राम सजीवन ने कहा कि पांच साल थानो मे केवल पैसे वालो की सुनी गयी इंसाफ लोगो को नही मिला पुलिस डाकू बनी रही। सेवालाल कहते है कि अमेठी का संमान बेच कर माला माल होने वालो का हिसाब इसी चुनाव मे लिया जायेगा ऐसी राय तमाम लोगों की रही ।

विवादों से है पुराना नाता

मंत्री गायत्री का विवादों से पुराना नाता है। फतेहपुर जिले में दर्ज हुए मुक़दमे ने नई बहस छेड़ दी है। खनन मंत्री रहने के दौरान लोकायुक्त में शिकायत हुई थी। एक महिला से संबंधो को लेकर हाल ही में काफी भदद पिटी थी।

आरोपों को बताया निराधार

मंत्री के पीआरओ पिंटू का कहना है कि किसी ने साजिश रची है। बरामद साड़ी उनकी नही है। मंत्री गरीबों के मसीहा माने जाते है।

Uttar Pradesh, India